Advertisement

Delhi

  • May 24 2019 2:56AM
Advertisement

रांची से संजय सेठ, खूंटी से अर्जुन मुंडा, कोडरमा से अन्नपूर्णा िवजयी, कीर्ति आजाद 4.86 लाख से हारे

रांची से संजय सेठ, खूंटी से अर्जुन मुंडा, कोडरमा से अन्नपूर्णा िवजयी, कीर्ति आजाद 4.86 लाख से हारे

  रांची : झारखंड के 14 में से 12 लोकसभा सीटों पर भाजपा समर्थित प्रत्याशियों की जीत हुई है.  कांग्रेस और झामुमो को एक-एक सीट पर जीत मिली है. खूंटी में अर्जुन मुंडा ने रोमांचक मुकाबले में कांग्रेस प्रत्याशी कालीचरण मुंडा को 1445 वोटों से हराया.  कांग्रेस प्रत्याशी के  विरोध  के कारण कई घंटे तक मतगणना रोकी गयी.

 
 दुमका से भाजपा के सुनील सोरेन ने आठ बार के सांसद रहे शिबू सोरेन को 47590 वोटों से हरा दिया.   कोडरमा से अन्नपूर्णा देवी ने झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को 4,55600 वोट से हरा दी. लोहरदगा से केंद्रीय मंत्री सुदर्शन भगत ने कांग्रेस प्रत्याशी सुखदेव भगत को 9459 वोटों से हरा दिया. आजसू के टिकट पर चुनाव लड़ रहे एनडीए (आजसू) प्रत्याशी चंद्रप्रकाश चौधरी ने गिरिडीह सीट फतह कर ली. उन्होंने झामुमो के जगरनाथ महतो को 248347 वोटों से हराया.
 
वहीं, कांग्रेस की गीता कोड़ा ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा को हरा कर सिंहभूम सीट जीती. जबकि झामुमो के  विजय हांसदा राजमहल सीट बचाने में कामयाब रहे. उन्होंने हेमलाल मुर्मू को 99195 वोट से हराया.  भाजपा के पुराने चेहरों में हजारीबाग से केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा, धनबाद से पीएन सिंह, गोड्डा से निशिकांत दूबे, पलामू से वीडी राम, चतरा से सुनील सिंह व जमशेदपुर से विद्युतवरण महतो ने फिर जीत हासिल की. 
 
 हजारीबाग से केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के गोपाल साहू को 4,79548  वोटों से हराया. भाजपा के पीएन सिंह, वीडी राम  और अन्नपूर्णा देवी  चार लाख से अधिक वोटों के अंतर से जीते. जमशेदपुर से विद्युतवरण महतो, चतरा से सुनील कुमार सिंह ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी  को तीन लाख से ज्यादा मतों से हराया.  गोड्डा से भाजपा के निशिकांत दूबे ने झाविमो प्रत्याशी प्रदीप यादव को 184227 वोटों से शिकस्त दी.  
 
खूंटी में आर्मी के वोट की गणना पर हुआ विवाद :  खूंटी में मतगणना के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी कालीचरण मुंडा ने सेवा मतदाताओं के वोट (इपीपीबीएस) पर सवाल उठाया. इपीपीबीएस सेवा मतदाताओं (आर्मी) द्वारा दिये गये वोट हैं. 
 
चुनाव आयोग ने इस बार इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम से सेवा मतदाताओं को मतपत्र भेजा था. कांग्रेस प्रत्याशी को पोस्टल बैलेट (सरकारी कर्मचारियों को दिया गया मतपत्र) की गणना में आपत्ति थी. उन्होंने चुनाव आयोग के पास इससे संबंधित आपत्ति दर्ज करायी. हालांकि जिला निर्वाची पदाधिकारी ने मतगणना के आधार पर भाजपा प्रत्याशी अर्जुन मुंडा की बढ़त से इंकार नहीं किया. लेकिन देर रात 11.36 बजे विजेता की घोषणा कर दी गयी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement