Delhi

  • Jan 24 2020 10:18PM
Advertisement

ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे, 15 समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर

ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो चार दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे, 15 समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर

नयी दिल्ली : ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर मेसियस बोलसोनारो शुक्रवार को चार दिवसीय राजकीय यात्रा पर नयी दिल्ली पहुंचे जहां वह भारत के साथ घनिष्ठ सामरिक संबंधों को और प्रगाढ़ बनाने पर चर्चा करेंगे.

राष्ट्रपति बोलसोनारो भारत के 71वें गणतंत्र दिवस पर परेड में मुख्य अतिथि होंगे. बोलसोनारो और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शनिवार को बैठक के बाद भारत और ब्राजील तेल और गैस, खनन और साइबर सुरक्षा सहित कई क्षेत्रों में 15 समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे. ब्राजील के राष्ट्रपति के साथ उनकी बेटी लॉरा बोलसोनारो, पुत्रवधू लेटिसिया फर्मो, आठ मंत्री, चार सांसद, ब्राजील की संसद में ब्राजील-भारत मैत्री समूह के अध्यक्ष, वरिष्ठ अधिकारी और एक बड़ा व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल भी दौरे पर आया है. यहां पहुंचने के कुछ घंटे बाद बोलसोनारो कई अधिकारियों के साथ अक्षरधाम मंदिर पहुंचे.

लैटिन अमेरिका के सबसे बड़े देश ब्राजील के साथ भारत के संबंध पिछले कुछ वर्षों में काफी प्रगाढ़ हुए हैं. ब्राजील की आबादी 21 करोड़ और अर्थव्यवस्था 1800 अरब डॉलर है. अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को मोदी और बोलसोनारो की बैठक के बाद दोनों पक्ष 15 समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे जिसमें निवेश सहयोग, सामाजिक सुरक्षा पर समझौता, आपराधिक मामलों में परस्पर कानूनी सहयोग और जैव ऊर्जा में सहयोग पर सहमति पत्र पर हस्ताक्षर शामिल होगा. उन्होंने कहा कि साइबर सुरक्षा, स्वास्थ्य और दवाइयां, तेल और प्राकृतिक गैस, भूगर्भ और खनन और वैज्ञानिक शोध में सहयोग के क्षेत्र में भी समझौते होंगे.

विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने हवाई अड्डे पर ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो की अगवानी की. मुरलीधरन ने अपने ट्वीट में कहा, हमारे सम्माननीय अतिथि राष्ट्रपति बोलसोनारो का भारत के लोगों और सरकार की ओर से हृदय से स्वागत. विदेश मंत्रालय में सचिव (पूर्व) विजय ठाकुर सिंह ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं को बताया था, राष्ट्रपति बोलसोनारो की यात्रा अत्यंत महत्वपूर्ण है. यह यात्रा हमारे सामरिक संबंधों को नई ऊर्जा प्रदान करने और प्रमुखता से आगे बढ़ने का महत्वपूर्ण अवसर प्रदान करेगी. उन्होंने कहा, इस यात्रा से भारत-ब्राजील के बीच बहुआयामी संबंधों के और विस्तार पाने तथा मजबूत होने की उम्मीद है.

राष्ट्रपति बोलसोनारो 24-27 जनवरी तक भारत की यात्रा पर रहेंगे और इस दौरान वे 26 जनवरी 2020 को भारत के 71वें गणतंत्र दिवस पर आयोजित होने वाली परेड में मुख्य अतिथि होंगे. गौरतलब है कि इससे पहले ब्राजील के किसी राष्ट्रपति की पिछली भारत यात्रा अक्तूबर 2016 में राष्ट्रपति मिशेल टेमर द्वारा गोवा में आठवें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के दौरान हुई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवंबर 2019 में ग्यारहवें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए ब्रासीलिया गये थे. यह राष्ट्रपति बोलसोनारो का भारत का पहला राजकीय दौरा है. इससे पहले 1996 और 2004 में हमारे गणतंत्र दिवस परेड में ब्राजील के राष्ट्रपति मुख्य अतिथि रह चुके हैं.

25 जनवरी को राष्ट्रपति बोलसोनारो राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे जो उनके सम्मान में एक भोज की मेजबानी करेंगे. वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वार्ता करेंगे. उपराष्ट्रपति और विदेश मंत्री भी राष्ट्रपति बोलसोनारो से मुलाकात करेंगे. 27 जनवरी को राष्ट्रपति बोलसोनारो भारत-ब्राजील व्यापार मंच में भारतीय और ब्राजील के कारोबारियों को संबोधित करेंगे. विदेश मंत्रालय के अनुसार, भारत और ब्राजील एक घनिष्ठ और बहुआयामी संबंध साझा करते हैं. हमारे द्विपक्षीय संबंध दोनों देशों के सामान्य वैश्विक दृष्टिकोण, साझा लोकतांत्रिक मूल्यों और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने हेतु प्रतिबद्धता पर आधारित हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement