Advertisement

Delhi

  • Feb 11 2019 11:18AM
Advertisement

मोदी के 1800 गिफ्ट्स की नीलामी पूरी, 200 गुना तक ज्यादा मिली कीमत

मोदी के 1800 गिफ्ट्स की नीलामी पूरी, 200 गुना तक ज्यादा मिली कीमत

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उपहारों की नीलामी पूरी हो गयी है. 1800 वस्तुओं की नीलामी में करीब 15 दिन का वक्त लगा. एक शिव की मूर्ति 10 लाख रुपये में बिकी, जबकि अशोक स्तंभ 13 लाख रुपये में खरीदा गया. यह नहीं बताया गया है कि इन वस्तुओं की नीलामी से कितने पैसे मिले, लेकिन यह बताया गया है कि कई वस्तुएं 200 गुना ज्यादा कीमत में खरीदी गयी. इन वस्तुओं की नीलामी से मिले धन का इस्तेमाल नमामि गंगे परियोजना के तहत गंगा की सफाई के लिए होगा. प्रधानमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी है.

बताया गया है कि 5,000 रुपये मूल्य की भगवान शिव की एक मूर्ति को 10 लाख रुपये में खरीदा गया. यह मूर्ति की बेस प्राइस से 200 गुना अधिक है. वहीं, लकड़ी से बनी अशोक स्तंभ की प्रतिकृति, जिसकी कीमत 4,000 रुपये रखी गयी थी, 13 लाख रुपये में बिकी.

भगवान बुद्ध की एक प्रतिमा को भी नीलामी के लिए रखा गया था. इसका आधार मूल्य 4,000 रुपये था, जिसे किसी ने 7 लाख रुपये में खरीदा. असम के माजुली से मिली एक पारंपरिक होराई (असम राज्य का एक पारंपरिक प्रतीक - एक स्टैंड के साथ ट्रे) की नीलामी 12 लाख रुपये में हुई. इसका आधार मूल्य 2 हजार रुपये रखा गया था.

नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) में आयोजित नीलामी के दौरान विशेष रूप से दस्तकारी की हुई लकड़ी की एक बाइक 5 लाख रुपये में बिकी. इसी तरह एक अनोखी पेंटिंग की भी नीलामी हुई, जिसमें एक प्लेटफॉर्म पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दर्शाया गया है. इस तस्वीर के जरिये पीएम मोदी का रेलवे से जुड़ाव दिखाया गया है.

पीएमओ से जारी बयान में कहा गया है कि गुजरात के मुख्यमंत्री रहते नरेंद्र मोदी ने उपहार में मिली वस्तुओं की नीलामी की थी, ताकि धनराशि का बालिकाओं की शिक्षा के लिए उपयोग किया जा सके. इस प्रक्रिया को उन्होंने जारी रखा है. इस बार जो धन संग्रह हुआ है, उसका इस्तेमाल पवित्र नदी गंगा की सफाई में मदद करने के लिए किया जायेगा.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement