Delhi

  • Jan 17 2020 6:33PM
Advertisement

Delhi Elections 2020: केजरीवाल के खिलाफ खड़ी होंगी निर्भया की मां? कीर्ति आजाद ने किया स्वागत, फिर...

Delhi Elections 2020: केजरीवाल के खिलाफ खड़ी होंगी निर्भया की मां? कीर्ति आजाद ने किया स्वागत, फिर...
फोटो सोशल मीडिया से.

नयी दिल्ली : दिल्ली में विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं. भाजपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी अपने चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. चुनाव के लिए सबसे पहले सत्ताधारी आम आदमी पार्टी ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है.

 

इस बीच शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की प्रचार समिति के अध्यक्ष कीर्ति आजाद ने निर्भया की मां को लेकर ऐसा ट्वीट कर दिया, जो देखते ही देखते वायरल हो गया. दिल्ली कांग्रेस के नेता कीर्ति आजाद ने ट्विटर पर लिखा- 'ऐ मां तुझे सलाम... आशा देवी जी आपका स्वागत है.'

आजाद के इस ट्वीट के बाद निर्भया की मां आशा देवी के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा शुरू हो गई थी. चर्चा चली कि नयी दिल्ली सीट, जहां से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुनाव लड़ते हैं, वहां से निर्भया की मां कांग्रेस उम्मीदवार हो सकती है, लेकिन जल्द ही निर्भया की मां ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए इस खबर का खंडन कर दिया.

निर्भया की मां आशा देवी ने किसी भी राजनीतिक पार्टी में शामिल होने से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि इस बारे में मेरी किसी भी पार्टी से बातचीत नहीं हुई है.

मालूम हो कि हाल ही में निर्भया केस में जारी कानूनी दांव-पेंच पर आशा देवी ने बयान दिया था. उनका कहना था कि राजनीतिक फायदे के लिए चारों दोषियों की फांसी को रोका गया है.

निर्भया की मां ने कहा कि जब 2012 में ये घटना हुई थी, तो इन्हीं लोगों ने हाथ में तिरंगा लिया, हाथ में काली पट्टी बांधी और महिलाओं की सुरक्षा के लिए खूब रैलियां कीं, खूब नारे लगाये. आज यही लोग उस बच्ची की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं.

कोई कह रहा है कि आपने रोक दिया, कोई कह रहा है कि हमें पुलिस दे दीजिए मैं दो दिन में दिखाऊंगा. अब मैं जरूर कहना चाहूंगी कि इन लोगों ने अपने फायदे के लिए दोषियों की फांसी रोक रखी है.

इस पर अरविंद केजरीवाल का बयान भी आया. उन्होंने कहा- निर्भया की मां को कोई मिसगाइड कर रहा है. हम तो चाहते हैं कि जल्द से जल्द निर्भया के दोषियों को फांसी हो. मुझे लगता है, निर्भया की मां को गलतफहमी हुई है.

बहरहाल, आपको बता दें कि दिल्ली 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव की वोटिंग होनी है और 11 फरवरी को नतीजे घोषित होंगे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement