Advertisement

darbhanga

  • Aug 29 2019 2:12AM
Advertisement

थानाध्यक्ष की फिसली जुबान, महिलाओं का थाना पर प्रदर्शन

लाठी-डंडे, चप्पल आदि के साथ घंटों की नारेबाजी 

थानाध्यक्ष ने किया इंकार, गुस्सा शांत करने के लिए मांगी माफी

तीन घंटे तक धरना पर जमी रहीं महिलाएं 
 
अलीनगर : थानाध्यक्ष रामनारायण पासवान की जुबान एक महिला के साथ मोबाइल पर बात फिसल गयी. इससे महिलाओं का गुस्सा भड़क उठा. बुधवार को करीब दर्जन भर महिलाओं ने थाना पर आक्रोशपूर्ण उग्र प्रदर्शन किया. लोगों के बीच-बचाव व थानाध्यक्ष के माफी मांगने पर मामला शांत हुआ. इसे लेकर कुछ देर के लिए थाना परिसर में अफरा-तफरी मची रही. हाथों में चप्पल, लाठी-डंडा, झाड़ू आदि लेकर महिलाएं उग्र प्रदर्शन कर रही थी. 
 
तबादले की मांग पर अड़ीं : इसके बावजूद महिलाएं थानाध्यक्ष के तबादले की मांग को लेकर करीब साढ़े तीन घंटे तक धरना पर बैठी रही. मौके पर पहुंचे सीओ राजीव रंजन ने भी नेतृत्व कर रही राजद महिला प्रकोष्ठ की प्रखंड अध्यक्ष समतोला देवी से पूरी जानकारी ली. मौके पर मौजूद निर्माण करने वाले आरोपित अर्जुन कामति को फटकार लगायी. साथ ही मामला न्यायालय में लंबित होने के कारण निर्णय आने तक निर्माण कार्य शुरु नहीं करने की सख्त चेतावनी दी. इसके बाद जिपस मो. सिराजुद्दीन, राजद नेता बैद्यनाथ प्रसाद यादव, अनिल कुमार यादव, पैक्स अध्यक्ष मिलन कुमार सुधाकर तथा रामप्रसाद यादव आदि की पहल पर धरना समाप्त हुआ. 
 
थानाध्यक्ष के खिलाफ की जमकर नारेबाजी  : प्रदर्शनकारी करीब दस बजे हाथों में डंडा, झाड़ू एवं चप्पल लिए हुए थाना पर पहुंच गयी. थानाध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी करने लगी. इसे शांतिपूर्वक नियंत्रित करने में एसआइ राशिद सिद्दीकी, एएसआइ धनंजय कुमार एवं अलहक के पसीने छूटते रहे. धरना-प्रदर्शन में भाग लेने वाली महिलाओं में जानकी देवी, रेशमा देवी, इंदु देवी, मीना देवी, सुशीला देवी आदि शामिल थीं. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement