Advertisement

crime

  • Apr 21 2017 7:24AM

पिता ने तीन वर्षीय इकलौते पुत्र को टांगी से काट कर मार डाला

पिता ने तीन वर्षीय इकलौते पुत्र को टांगी से काट कर मार डाला
रांची/बुढ़मू: बुढ़मू थाना क्षेत्र के चांया पुरनाडीह में 28 वर्षीय सुकरा उरांव ने अपने इकलौते तीन वर्षीय पुत्र मनीष उरांव की हत्या कर दी. टांगी से पुत्र को काट कर उसके सिर, पैर व धड़ को अलग कर दिया. घटना गुरुवार की सुबह करीब नौ बजे की है.  मनीष की हत्या कर उसके सिर को हाथ में लेकर सुकरा उरांव अपनी पत्नी पर हमला करने के लिए दौड़ा. यह देख पत्नी जान बचाने के लिए बदहवास होकर भागने लगी. 

इसी बीच ग्रामीणों ने सुकरा उरांव को पकड़ लिया और उसकी पिटाई की. सूचना मिलने पर बुढ़मू थाना की पुलिस पहुंची. इसके बाद ग्रामीणों ने सुकरा उरांव को पुलिस को सौंपा दिया. पुलिस ने सुकरा उरांव को अपने पुत्र की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने घटनास्थल की एफएसएल की टीम से भी जांच करायी है. एफएसएल की टीम ने घटनास्थल से खून के नमूने और अन्य सामान जांच के लिए जब्त किये हैं. पुलिस ने बच्चे के  शव को कब्जे में  कर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है.  
 
कैसे हुई घटना : परिजनों  से मिली जानकारी के अनुसार चार दिन पहले सुकरा उरांव की बहन  की शादी हुई थी. बहन की शादी के बाद से ही उसकी मानसिक स्थिति खराब  हो गयी थी. शैतान आया है-कहते हुए सुकरा उरांव मंगलवार की पूरी रात घर के  चारों तरफ घूम रहा था. बुधवार की सुबह परिजन उसे ओझा के पास लेकर गये व  झाड़फूंक करवा कर वापस लाये. बुधवार रात में वह सामान्य था. गुरुवार की सुबह सुकरा अपने पुत्र मनीष को लेकर कुआं के पास गया. वहां से  घर आकर टांगी लेकर फिर कुआं के पास गया. कुआं के पास  स्थित पत्थर पर मनीष को रखा  और टांगी से हमला कर उसके सिर, धड़ व पैर को अलग कर दिया. पुलिस को आशंका है कि सुकरा उरांव घटना के बाद अपने मानसिक स्थिति खराब होने का ढोंग कर रहा है. इसलिए पुलिस ने उसको न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का निर्णय लिया है.
 

Advertisement

Comments