crime

  • Dec 15 2019 1:16AM
Advertisement

डायन के संदेह में चाची को मार डाला

डायन के संदेह में चाची को मार डाला

 बंदगांव : जादू-टोना, डायन के संदेह में अपने ही अपनों की जान ले रहे हैं. इसी अंधविश्वास के कारण बुधवार की रात में भी बंदगांव थाना के लुंबई गांव के जोजोपीढ़ी जंगल में भतीजे मतीयस कांडिर(25) ने अपनी  55 वर्षीया बड़ी मां (चाची) बेरता कांडिर की धारदार हथियार से हत्या कर दी. 

 
बंदगांव प्रखंड में एक हफ्ते में डायन के संदेह में तीन महिलाओं की हत्या हो चुकी है. इधर, पुलिस ने जाजोपीढ़ी जंगल से महिला का शव जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल भेज दिया है.
 
 मृतका के गले व शरीर के अन्य हिस्सों पर गहरे जख्म के निशान मिले हैं. सुनसान जंगल में हत्या करने के कारण कोई भी मृतका की मदद नहीं कर पाया. पुलिस ने आरोपी मतीयस को गिरफ्तार कर चाईबासा जेल भेज दिया है. 
 
बंदगांव थाना में कांड संख्या 22/19 में धारा 302 भादवि व 3/4 डायन प्रथा प्रतिषेध अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने बताया कि बेरता कांडिर का शव लुंबई के जोजोपीढ़ी जंगल में मिला था. उनकी हत्या धारदार हथियार से कर दी गयी थी.
 
साप्ताहिक हाट से मां घर नहीं लौटी, तो बेटी को हुआ शक : जानकारी के मुताबिक, मुरहू थाना की तपिंगसरा गांव की बेरता कांडिर साप्ताहिक हाट करने बुधवार के दिन बंदगांव बाजार गयी थीं, 
 
लेकिन देर रात नहीं लौटीं. बड़ी बेटी मरियम कांडिर ने बंदगांव थाने में गुरुवार को मां के गायब होने का मामला दर्ज कराया. पुलिस हरकत में आयी और भतीजे मतियस कांडिर(25) को गिरफ्तार कर लिया. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement