crime

  • Dec 15 2019 1:00AM
Advertisement

एक छात्रा का अपहरण करते दूसरी ने देखा, पता नहीं चला

 नामकुम : कर्मचारी चयन आयोग कार्यालय मैदान स्थित मोड़ के समीप काली नगर में स्कूली छात्रा सीमा (बदला हुआ नाम)के अपहरण की सूचना पर पुलिस दिनभर परेशान रही. शनिवार सुबह से शाम तक विभिन्न स्रोतों से छात्रा व अपहरणकर्ताओं की पहचान करने का प्रयास करती रही, लेकिन पता नहीं चला. 

 
घटना की सूचना पर ग्रामीण एसपी ऋषभ झा, डीएसपी मुख्यालय प्रथम नीरज कुमार, सीआइडी इंस्पेक्टर रविकांत प्रसाद नामकुम थाना पहुंचे और मामले की जानकारी ली. ग्रामीण एसपी ने आसपास के भवनों में लगे सीसीटीवी कैमरे का फुटेज भी चेक किया. 
 
इसके अलावे चाय बागान में अरविंद झा के घर, घटनास्थल के समीप राज्य कर्मचारी चयन आयोग कार्यालय व कुटियातू स्थित पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के आधार पर संबंधित मारुति वैन की पहचान करने की कोशिश की गयी, लेकिन सफलता नहीं मिली. 
 
 एसपी ने बताया कि सीमा का अपहरण करते हुए काली नगर की रहनेवाली छात्रा सीता (बदला हुआ नाम) ने देखा था. लेकिन वह डरी सहमी हुई है. उसने बताया कि शनिवार की सुबह लगभग सवा सात बजे वह साइकिल से स्कूल जा रही थी. इस दौरान कर्मचारी चयन आयोग कार्यालय मैदान के समीप मोड़ पर एक सिल्वर कलर की मारुति वैन से उतर कर चार युवक पैदल चल रही सीमा को जबरदस्ती वैन में बैठा रहे थे.
 
 वह बचाओ-बचाओ चिल्लाने लगी. सीता को लगा कि सीमा का अपहरण किया जा रहा है. अपहरणकर्ता सीता की ओर भी दौड़े, लेकिन वह डर से साइकिल से वापस घर की और भागने लगी. सीता के अनुसार दो युवकों ने उसका भी पीछा किया, लेकिन पकड़ नहीं सके. इसके बाद युवक सीमा को वैन से लेकर फरार हो गये. 
 
इसके बाद सीता काली नगर स्थित घर पहुंची और घटना की जानकारी मां को दी. उसकी मां ने अन्य लोगों को बताया़ फिर पुलिस को सूचना दी गयी. देर शाम तक सीमा के अपहरण को लेकर किसी ने शिकायत दर्ज नहीं करायी थी. मामले में एक सिल्वर रंग की मारुति वैन के चालक से भी पूछताछ की, लेकिन उसकी संलिप्तता सामने नहीं आयी. 
 
घटनास्थल के समीप कई बड़े संस्थान, लेकिन नहीं है सीसीटीवी कैमरा
हैरत वाली बात है कि कालीनगर में जिस जगह पर छात्रा का अपहरण किया गया, उसके आसपास कई बड़े संस्थान हैं, लेकिन किसी भवन में भी सामने की ओर सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं. जबकि कालीनगर के समीप राज्य कर्मचारी चयन आयोग, सहकारिता भवन, झारखंड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय व संयुक्त प्रवेश परीक्षा पर्षद का कार्यालय है. अगर किसी भी संस्थान में सड़क की ओर कैमरा लगा होता, तो अपहरणकर्ताओं तक पहुंचने में आसानी होती.
 
छात्रा की बरामदगी को लेकर बनायी टीम
सीमा की सकुशल बरामदगी को लेकर ग्रामीण एसपी ऋषभ झा ने टीम का गठन किया है. टीम के सदस्य सभी संबंधित जगहों पर नजर रखे हुए हैं. रांची से बाहर निकलने  वाले सभी रास्ते पर नाकेबंदी कर दी गयी है. सभी गुजरने वाले वाहनों की जांच की जा रही है. 
 
कर्मचारी चयन आयोग कार्यालय मैदान के पास हुई घटना
उस वक्त दूसरे स्कूल की छात्रा स्कूल जा रही थी उसने देखा घटनाक्रम
उसका भी किया गया था पीछा, लेकिन वह भाग कर घर पहुंच गयी
 
लाल रंग की मारुति वैन की भी चर्चा 
पुलिस ने छानबीन के दौरान तकनीकी विश्वविद्यालय के पास स्थित एक होटल संचालक से जानकारी ली. उसने बताया कि लगभग साढ़े सात बजे होटल के समीप एक लाल रंग की  मारुति वैन आयी थी. उसमें तीन युवक और दो युवती सवार थे. एक युवक उनके पास पानी लेने आया था. पानी लेने के बाद एक युवती कार से उतरी जिसके मुंह से खून आ रहा था. युवती ने पानी से मुंह धोया और कार में बैठ गयी, जिसके बाद सभी चले गये.
 
Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement