crime

  • Dec 5 2019 7:25AM
Advertisement

युवती की पहचान के बाद ही खुलेगा हत्या का राज

युवती की पहचान के बाद ही खुलेगा हत्या का राज

 बक्सर : इटाढ़ी थाना क्षेत्र के कुकुढ़ा गांव में मंगलवार की सुबह मिली एक जली युवती के शव को लेकर पूरे सूबे में तहलका मचा है. घटना के 48 घंटे बाद बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक शव की पहचान नहीं कर पायी है. लिहाजा अपराधियों की पहचान करने में पुलिस की मुश्किलें बढ़ गयी है. हालांकि पुलिस विभाग घटना को लेकर गंभीर है. पुलिस के लिए पूरा मामला एक पहेली बनी हुई है. जिसमें केवल पुलिस के पास जली हुई महिला का शव है. 

 
घटना के दूसरे दिन बुधवार शाहाबाद रेंज के डीआइजी राकेश राठी घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुट गये. डीआइजी राकेश राठी ने गांव के कई लोगों से घटना की जानकारी लेनी चाही लेकिन, गांव के लोग इस घटना को लेकर कुछ कह नहीं रहे हैं. डीआइजी राकेश राठी घटनास्थल के आसपास के जगहों की जांच की. उन्होंने घटना को लेकर एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा को कई निर्देश दिये. 
 
डीआइजी राकेश राठी ने कहा कि पुलिस की पहली प्राथमिकता है युवती की पहचान करना. अगर युवती की पहचान हो जाती है तो पूरे मामले का खुलासा करने में पुलिस को कम समय लगेगा. युवती की पहचान के लिए कई जिलों की पुलिस से मदद ली जा रही है. कई जिलों में गायब युवती की कुंडली भी खंगाली जा रही है. अभी तक एक भी परिवार सामने नहीं आया है. मामले की जांच की जा रही है.
 
पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही खुलेगा दुष्कर्म का मामला: युवती के शव को लेकर जिले में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं. कोई गैंगरेप तो कोई ऑनर किलिंग तो कोई दहेज हत्या से जोड़कर पूरे मामले को देख रहा है. 
 
लेकिन अभी तक रेप और गैंगरेप की पुष्टि नहीं हो रही है. डीआइजी राकेश राठी ने कहा कि युवती के साथ रेप हुआ है कि नहीं. इसका खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हो पायेगा. एक दो दिन में इसका खुलासा कर लिया जायेगा.
 
डंप से अपराधियों को पकड़ेगी पुलिस :पुलिस पूरे मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए अब डंप का सहारा लेगी. जिसमें घटनास्थल से एक किलोमीटर के दायरे में जितने भी मोबाइल यूज किये गये होंगे. उन मोबाइल नंबरों की जांच करेगी. उसके आधार पर पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार करेगी. साथ ही पूरे मामले का खुलासा भी कर लेगी. इसके लिए पुलिस ने मोबाइल लोकेशन का प्रयोग कर रही है.  
 
रात भर घटनास्थल पर तैनात रही पुलिस : घटना के बाद साक्ष्य को कोई मिटा नहीं दे. इसे लेकर पुलिस मंगलवार की पूरी रात घटनास्थल पर तैनात रही. इसके लिए एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा ने एक अधिकारी, चौकीदार समेत कई जवानों को पूरी रात घटनास्थल पर तैनात किया था. 
 
जिसमें घटनास्थल पर किसी को आने की इजाजत नहीं थी. पुलिस रात भर पूरे घटनास्थल को घेरे हुए थी. पुलिस को लग रहा था कि कोई घटनास्थल पर आकर छेड़छाड़ नहीं कर दे. डीआइजी राकेश राठी ने बताया कि जांच के लिए रात भर पुलिस के जवानों को तैनात किया गया था. आने जाने वाले सभी लोगों पर पुलिस नजर बनाये हुए थी. अभी जांच चल रही है.
 
पीड़िता के साथ रेप किये जाने के बयान पर कायम हैं डॉ बीएन चौबे
बक्सर : कुकुढ़ा में अधजली युवती की मिली लाश का पोस्टमार्टम करने वाले चार सदस्यीय दल के सदस्य डॉ बीएन चौबे अपने पूर्व के दिये गये बयान पर अभी भी कायम हैं. बुधवार को उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया देखने से लगता है कि युवती के साथ दुष्कर्म किया गया है. उसके बाद बायें कनपटी पर गोली मारी गयी है जो दायें तरफ से छेद कर बाहर निकल गयी है. 
 
यदि जांच रिपोर्ट में युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म होने की रिपोर्ट निगेटिव भी आता है तो बलात्कार होने से इनकार नहीं किया जा सकता है. क्योंकि लड़की का शव जल जाने की वजह से जांच करना मुश्किल होगा. यदि घटना के छह घंटे के बाद जांच नहीं हो पाती है. वैसे स्थिति में जांच निगेटिव भी आ सकता है. 
 
जबकि युवती का पूरा शरीर ही जल गया है. बता दें कि जांच के लिए गठित टीम में डॉ बीएन चौबे, आरबी श्रीवास्तव, आरके गुप्ता एवं सिविल सर्जन डॉ उषा किरण शामिल हैं. जांच रिपोर्ट आने में अभी दो दिन का समय लग सकता है. जांच रिपोर्ट आने के बाद ही यह पता लगेगा कि युवती के साथ दुष्कर्म किया गया है या नहीं.
 
कई एजेंसियां कर रही हैं मामले की जांच
घटना के बाद से अपराधियों की गिरफ्तारी और युवती की पहचान के लिए बिहार सरकार की कई एजेंसियां काम कर रही है. जिसमें एफएसएल की टीम, मोबाइल लोकेशन की टीम, इंटेलिजेंस की टीम समेत बिहार पुलिस के अधिकारी काम कर रहे हैं. सभी टीमें अपने हिसाब से काम कर रही हैं. युवती की पहचान के लिए पुलिस विभाग सभी तरह के हथकंडे अपना रही है. 
 
वहीं अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर मोबाइल लोकेशन का सहारा लिया जा रहा है. खुफिया विभाग भी हत्या से जुड़ी सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है. डीआइजी राकेश राठी ने कहा कि कई विभाग काम कर रही है. ऑनर किलिंग के मामले की भी जांच की जा रही है. बहुत जल्द पूरे मामले का खुलासा कर लिया जायेगा.
 
युवती के शव को लेकर दूसरे दिन भी होती रही चर्चा 
जली हुई युवती का शव लेकर दूसरे दिन भी इलाके में चर्चा का बाजार गर्म रहा. मंगलवार की सुबह कुकुढ़ा गांव के बधार में जली मिली युवती का शव मिला था. इलाके के लोगों में इस बात की चर्चा हो रही है कि आखिर युवती का हत्यारा कौन है? कहीं युवती की रेप कर साक्ष्य को मिटाने के लिए तो जला नहीं दिया गया है? या कहीं युवती को दहेज के लिए जलाकर हत्या तो नहीं की गयी है. 
 
लोगों का कहना है कि युवती के साथ कहीं रेप किया गया होगा और उसकी हत्या कर गांव के बधार में जला दिया गया है. सूत्रों की मानें तो युवती की हत्या दहेज के लिए की गयी है. हत्या कहीं और की गयी. साक्ष्य को मिटाने के लिए अपराधियों ने कुकुढ़ा गांव के बधार में जला दिया ताकि पुलिस इधर व्यस्त रहे.  
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement