Advertisement

crime

  • Aug 14 2019 1:32AM
Advertisement

शारीरिक संबंध बनाने के बाद शादी से किया इंकार

शारीरिक संबंध बनाने के बाद शादी से किया इंकार

 इंसाफ की गुहार लगाते हुए युवक के घर धरने पर बैठी प्रेमिका

इस्लामपुर महकमा के चोपड़ा थाना के धियागर गांव की है घटना

सालिसी सभा ने सुनाया है शादी करने का फैसला
 
इस्लामपुर : शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाने के बाद शादी करने से इंकार कर देने को लेकर प्रेमी के घर धरने पर बैठी प्रेमिका. घटना को लेकर इस्लामपुर महकमा के चोपड़ा थाना के धियागर गांव में हलचल मच गयी है. आरोपी युवक की मां का कहना है कि पड़ोसियों ने मिलकर उसके बेटे को फंसाने की कोशिश कर रहे है. जानकारी मिली है कि चोपड़ा थाना के कांचाकली गांव निवासी रमीशा खातून का धीयागढ़ गांव निवासी मंजर आलम के साथ दो सालों से प्रेम संबंध था.
 
आरोप है कि युवक ने रमीशा खातून से शादी का वादा कर सिलीगुड़ी सहित विभिन्न शहरों में ले जाकर रात्रिवास किया. हाल में ही मंजर आलम अपने परिवार के दबाव में आकर शादी से आनाकानी करने लगा. इसे लेकर गांव व पंचायत स्तर पर सालिसी सभाएं हुई. सभाओं में मंजर को दोषी करार देते हुए रमीशा से शादी करने का फैसला सुनाया गया. लेकिन पिछले कुछ दिनों से मंजर के साथ संपर्क नहीं हो रहा है. इसपर रमीसा मंजर के घर पहुंची.
 
आरोप है कि मंजर के परिवार वाले रमीशा की मारपीट कर मिर्च की गुंडी फेंक दिया. इसपर उसने मंजर के घर के सामने धरने पर बैठ गयी. उसका कहना है कि जबतक मंजर उससे शादी नहीं कर लेता वह वहीं बैठी रहेगी. इलाके के लोगों एवं स्थानीय तृणमूल नेताओं ने बताया कि सर्वसम्मति से शादी का फैसला लिया गया था. फैसला नहीं मानने पर कानून की मदद ली जायेगी. मंजर की मां का कहना है कि पड़ोसी मिलकर उसके बेटे को फंसा रहे है. उनका बेटा निर्दोष है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement