Advertisement

crime

  • Aug 12 2019 12:59AM
Advertisement

मलय को शामिल करने पर सभा में भारी तोड़फोड़

 बाबुल सुप्रियो ने शािमल कराने से िकया था इंकार

स्थानीय पार्टी कर्मियों ने दी सामूिहक इस्तीफे की धमकी
 
दुर्गापुर :  दुर्गापुर गांधी मोड़ स्थित सर्कस मैदान में आयोजित भाजपा की जनसभा के दौरान बाराबनी के तृणमूल विधायक विधान उपाध्याय के रिश्तेदार मलय उपाध्याय को पार्टी में शामिल किए जाने को लेकर कर्मियों ने भारी हंगामा किया. जम कर कुर्सियों में तोड़-फोड़ की गई.
 
कर्मियों ने इसके लिए पार्टी जिलाध्यक्ष लखन घड़ुई को सीधे जिम्मेवार ठहराया. सनद रहे कि आसनसोल के सांसद सह केंद्रीय राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी शनिवार को कहा था कि फिलहाल किसी भी तृणमूल कर्मी को पार्टी में शामिल नहीं किया जायेगा. जिन पार्टी कर्मियों ने उनके खिलाफ संघर्ष किया है, उन्हें ही प्रोत्साहित किया जायेगा.
 
उन्होंने कहा कि दल बदल कराने पर वे इसकी शिकायत पार्टी नेतृत्व से करेंगे. विरोध का नेतृत्व कर रहे भाजपा कर्मी बप्पा माझी ने बताया कि मलय उपाध्याय तृणमूल  करते थे.  वह इलाके में बाराबनी के विधायक के साथ मिलकर भाजपा कर्मियों पर अत्याचार किया करते थे. साथ ही इलाके में अवैध कोयला,  लोहा,  बालू के करोबार के साथ लिप्त है. इस तरह के लोगो को पार्टी में शामिल करने से पार्टी का नाम बदनाम होगा.
 
उन्होंने बताया कि गोरंडी में भी मंत्री बाबुल सुप्रियो की सभा के दौरान वह पार्टी में शामिल होना चाहता था लेकिन वहां पर लोगो का विरोध के कारण वह शामिल नही हो सका. पार्टी नेतृत्व इस पर विचार करें अन्यथा पार्टी कर्मी सामूहिक इस्तीफा देंगे. भाजपा जिला अध्यक्ष लखन घोरुई ने बताया कि मलय उपाध्याय पिछले कुछ माह से पार्टी कर्मी के रूप में कार्य कर रहे थे. पार्टी के वरीय नेताओं से चर्चा के उपरांत रविवार को उन्हें पार्टी में शामिल किया गया.
 
उन्हें साधारण सदस्य रखा गया है. किसी भी सदस्य को उसकी योग्यता के आधार पर ही उन्हें पार्टी का दायित्व दिया जाएगा. कुछ पार्टी कर्मियों ने इसका विरोध किया. जल्द सब कुछ सामान्य हो जाएगा. बाराबनी मण्डल दो के कर्मियों का कहना है कि पार्टी में उनके शामिल होने से संगठन को फायदा होने के बजाय नुकसान होगा. जिसके कारण पार्टी हित में इसका विरोध किया गया.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement