Advertisement

crime

  • May 27 2019 4:07AM
Advertisement

चोरी की गाड़ियाें से शराब की तस्करी

 विजय सिंह, पटना  : राजधानी में चोरी होने वाली गाड़ियां अब न कबाड़ में कट रही हैं और न ही नेपाल भेजी जा रही हैं. शराब बंदी के बाद यह ट्रेंड बदल गया है. अब वाहन चोरी करने वाले चोर शराब सप्लायर को गाड़ियां बेच रहे हैं. शराब बंदी के बाद अवैध सप्लाइ में उतरे अपराधी चोरी की गाड़ियों से शराब की सप्लाइ कर रहे हैं. सप्लायर चोरी की गाड़ियां उन लोगों से औने-पौने भाव में खरीद रहे हैं जो राजधानी में वाहन चोरी करते हैं.

अब हालत यह है कि जो गाड़ियां चोरी हो रही हैं वो या तो दूसरे जिले से बरामद की जा रहीं हैं या फिर शराब तस्करों के पकड़े जाने पर बरामद की जा रही हैं. पुलिस इस सिडिंकेट को तोड़ने के लिए स्पेशल टीम बनायी हुई है जो वाहन चोरी में लगे गैंग को दबोचने में लगी है. हाल में कई एेसी बाइक पकड़ी गयी है जिससे शराब ले जाया जा रहा था. लेकिन पकड़े जाने पर पता चला कि बाइक चोरी की थी. 

 
जनवरी से लेकर अब तक 12 वाहन हो चुके हैं चोरी 
दरअसल पुलिस आंकड़े को देखा जाए तो सिर्फ पटना शहर से जनवरी माह से लेकर अब तक 12 चार पहिया वाहन चोरी हो चुके हैं. इसमें पाटलिपुत्रा, शास्त्रीनगर और कंकड़बाग इलाके से ज्यादा गाड़ियों चोरी हुई  हैं. कंकड़बाग में कुछ मैरिज हॉल से गाड़ियों की चोरी की गयी है.  हाल के दिनों में पुलिस ने एक गैंग को पकड़ कर कुछ गाड़ियां भी बरामद की थीं लेकिन पुलिस सूत्रों का कहना है कि अभी पूरा गैंग पुलिस के हाथ नहीं आया है. 
 
इसके लिए तकनीकी अनुसंधान चल रहा है. दरअसल पटना पुलिस की एक टीम कोलकाता और रांची में छापेमारी कर रही है. पुलिस जिस गैंग को तलाश रही है, उसके पकड़े जाने के बाद चोरी की कई गाड़ियां बरामद होने की संभावना है.इसलिए खोजबीन की जा रही है. पीएनएम मॉल के पास से जदयू प्रवक्ता एवं नेत्र रोग विशेषज्ञ सुनील कुमार सिंह की लूटी गयी गाड़ी को पुलिस ने सुपौल से बरामद किया है.  
 
Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement