Advertisement

crime

  • Apr 23 2019 1:39AM
Advertisement

जहर देकर दुधमुंहे बच्चे की हत्या, दादा-दादी पर आरोप

थाना में मामला दर्ज होने के बाद आरोपी फरार

 बेटे के प्रेम विवाह के समय से ही नाराज  बताये जा रहे थे

 बच्चे की मां ने कहा : सास-ससुर ने बदला लेने के लिए ऐसा किया
 
मालदा : दस महीने के पोते की जहर मिला दूध पिलाकर हत्या करने का आरोप उसकी दादी पर लगा है. घटना में प्रत्यक्ष रूप से मदद करने का आरोप दादा पर है. सोमवार सुबह यह घटना कालियाचक थाना के सैयदपुर गांव में हुई. पूरे मामले को लेकर बच्चे की मां मारुफा बीबी ने अपनी सास कोहिनूर बीबी और ससुर कयेस शेख के खिलाफ कालियाचक थाने में लिखित शिकायत दर्ज करवायी है. घटना के बाद से आरोपी इलाके से फरार हैं. 
 
 पुलिस सूत्रों से पता चला है कि मृत बच्चे का नाम अब्दुल नसीब है. उसके पिता बाहारुल इस्लाम कालियाचक थाने में सिविक वोलेंटियर है. मां मारुफा बीबी गृहिणी है. तीन साल पहले बाहारुल और मारुफा का प्रेम विवाह हुआ था. इस शादी को लेकर बाहारुल के मां-बाप राजी नहीं थे. सास-ससुर के साथ झगड़े से परेशान मारुफा बीबी पास में ही स्थित अपने पिता के घर चली गयी थी. डेढ़ साल से वह अपने पिता के घर पर ही रह रही है. काफी दिनों के बाद सोमवार को पड़ोस की एक किशोरी के माध्यम से उसके बच्चे अब्दुल नसीब को उसकी सास कोहिनूर बीबी ने मंगवाया. मारुफा ने इसे संबंध सुधारने की कोशिश समझते हुए बच्चे को उस किशोरी को दे दिया.
 
 मारुफा ने पुलिस को बताया कि वह किशोरी उनके बच्चे को दूध की बोतल के साथ लेकर गयी थी. आधे घंटे के बाद रोते हुए बच्चे को कोहिनूर बीबी ने वापस भिजवा दिया. मारुफा बीबी के अनुसार बच्चे के मुंह से फेन निकल रहा था. साथ ही उसे दुर्गंधयुक्त उल्टी व दस्त शुरू हो गये. इससे उन्हें जहर का संदेह हुआ. बच्चे का रोना बंद नहीं हो रहा था तो उसे तुरंत मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में ले जाया गया. लेकिन बीच रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी.
 
 मारुफा बीबी का आरोप है कि पति बाहारुल के साथ प्रेम विवाह से नाराज उसके सास-ससुर ने बदला लेने के लिए उसके दुधमुंहे बच्चे की जान ले ली. मामले को लेकर कालियाचक थाने में शिकायत दर्ज करवायी गयी है. कालियाचक थाना पुलिस ने बताया कि दस महीने के बच्चे की जहर देकर हत्या करने का आरोप कोहिनूर बीबी एवं कयेस शेख पर लगा है. दोनों आरोपी फरार हैं. उनकी तलाश जारी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement