Advertisement

crime

  • Apr 16 2019 1:58AM

उपद्रवियों ने की पथराव, आगजनी व तोड़फोड़

 अर्द्ध सैन्य बल ने संभाला मोर्चा, दोनों पक्षों से पांच युवक गिरफ्तार

एसीपी (वेस्ट) का वाहन क्षतिग्रस्त, उनके साथ कई पुलिसकर्मी चोटिल

बराकर : रामनवमी पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने सोमवार को स्थानीय मारवाड़ी विद्यालय से बाइक रैली निकाली. आराडंगाल के पास से रैली के अंतिम छोर पर दो गुटों के बीच पथराव शुरू हो गया. दोनों गुट एक-दूसरे को उकसावे के लिए जिम्मेवार बता रहे हैं. इसकी सूचना मिलने के बाद कुल्टी सन्यासी मोड़ तक पहुंचे रैली सदस्य वापसबराकर आ गये तथा दोनों पक्षों के बीच नये सिरे से पथराव शुरू हो गया. स्टेशन रोड तथा बेगुनिया की सभी दुकानें धड़ाधड़ बंद हो गयी.

उपद्रवियों ने कुछ दुकानों को क्षतिग्रस्त करने का प्रयास किया. एक स्कूटी में आग लगा दी गई. स्थिति नियंत्रित करने में सहायक पुलिस आयुक्त (वेस्ट) शांतिव्रत चंद के वाहन को क्षितग्रस्त कर दिया गया. उन्हें तथा दोनों पक्षों से कई लोगों को चोटें आई. पहले स्थित नियंत्रण के लिए रैफ उतारा गया. बाद में अर्द्ध सैन्य बल ने मोर्चा संभाला तथा उपद्रवियों को खदेड़ कर स्थिति नियंत्रित की.

पुलिस आयुक्त लक्ष्मी नारायण मीणा तथा जिलाशासक सह जिला निर्वाचन अधिकारी शशांक सेठी ने बराकर का दौरा किया तथा स्थिति को नियंत्रित बताया. इस संबंध में दोनों पक्षों से पांच युवकों को गिरफ्तार किया गया है. स्थानीय विधायक उज्जवल चटर्जी ने भी घटनास्थल का दौरा किया. संवेदनशील इलाकों में अर्द्ध सैन्य बल तथा रैफ के जवान रूट मार्च कर रहे हैं.

पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार विहिप की रैली सोमवार को मारवाड़ी विद्यालय परिसर से शुरू हुई. पुलिस ने सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था कर रखी थी. रैली शांतिपूर्ण जा रही थी. अगली कतार के कर्मी सन्यासी मोड़ तक पहुंच गये थे. बराकर स्टेशन रोड के आराडंगाल के पास से रैली का अंतिम हिस्सा निकल रहा था. अचानक हंगामा शुरू हो गया तथा दो पक्षों में पथराव शुरू हो गया.  

परस्पर विरोधी आरोप एक-दूसरे पर

पथराव के कारणों को लेकर दोनों पक्ष एक-दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं. एक पक्ष का कहना है कि रैली में शामिल युवकों ने कोल्ड ड्रिंक्स की खाली बोतलें उनकी तरफ फेंके. जबाब में उन्होंने पत्थरबाजी की. जबकि दूसरे पक्ष का कहना है कि अचानर रैली पर पथराव शुरू हो गया. इसके पहले कि पुलिस अधिकारी स्थिति की नियंत्रित कर पाते, रैली पीछे मुड़कर वापस बेगुनिया आ गई. इसके बाद स्थिति अनियंत्रित हो गई. दोनों पक्षों के बीच पथराव और अधिक तेज हो गया तथा मौके का फायदा उठाने के लिए उपद्रवी सक्रिय हो गये.

पुलिस अधिकारियों ने संभाला मोर्चा

हंगामे के बाद बेगुनिया मोड़ तथा स्टेशन रोड की सभी दुकानें बंद हो गई. उपद्रवियों ने कुछ दुकानों में पथराव कर तोड़फोड़ करने की कोशिश की. लेकिन पुलिस अधिकारियों ने रैफ बुला लिया. इसके कारण दुकानों को अधिक क्षति नहीं पहुंची. उपद्रवियों ने एक स्कूटी में आग लगा दी तथा एसीपी (वेस्ट) श्री चंद के वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया. पथराव में श्री चंद सहित पुलिस कर्मियों तथा अन्य लोगों को भी चोटें आई. दोनों पक्षों में रूक-रूक कर पथराव होता रहा.

अर्द्ध सैन्य बल ने खदेड़ा उपद्रवियों को

कमीश्नरेट के खुफिया विभाग के निरीक्षक देवज्योति साहा अर्द्धसैन्य बल के साथ पहुंचे. इसके बाद जवानों ने स्टेशन रोड सहित विभिन्न सड़कों से उपद्रवियों को खदेड़ दिया. घरों के सामने जमा लोगों को भी घर केअंदर जाने को कहा गया. हालांकि कुछ लोगों ने इसका विरोध किया. बाद में सभी अंदर चले गये. दोनों पक्षों से कुल पांच युवकों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार होनेवालों में अमर सिंह, आदित्य शर्मा शामिल हैं. स्थिति नियंत्रित होने के बाद अर्द्ध सैन्य बल तथा रैफ के जवानों ने रूट मार्च शुरू किया. वरीय पुलिस अधिकारी शहर में कैंप कर रहे हैं.

पुलिस आयुक्त, जिलाशासक पहुंचे समीक्षा करने

पुलिस आयुक्त श्री मीणा तथा जिलाशासक श्री सेठी बराकर पहुंचे तथा अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (वेस्ट) अनामित्रा दास से जानकारी ली. उन्होंने मीडिया को बताया कि पुलिस बल स्थिति नियंत्रित कर रहा था. अचानक रैली में शामिल लोगों के लौट आने के कारण स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई. लेकिन स्थिति पूर्णत: नियंत्रण में है. अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है. मामले की जांच की जा रही है.

वरीय पुलिस अधिकारी कर रहे कैंप   

पुलिस उपायुक्त कुमार गौतम, एडीसीपी (वेस्ट) अनामित्रा दास, एसीपी (वेस्ट) शांतिब्रत चंद्रा, एसीपी (ट्रैफिक) उत्सा श्रीमणी, कुल्टी थानेदार पार्थ सिकदर, बराकर, नियामतपुर, चौरंगी, सांकतोड़िया, कल्याणेश्वरी फांड़ी के प्रभारी पुलिस बल के साथ उपस्थित थे. माहौल को शांत करने में पूर्व सीआईसी सह तृणमूल नेता अभय प्रताप सिंह उर्फ पप्पू सिंह तथा बराकर चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष शिव कुमार अग्रवाल पूरी तरह से सक्रिय रहे.

विधायक उज्जवल ने भी ली जानकारी

घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय विधायक उद्दवल चटर्जी भी घटनास्थल पर पहुंचे. उन्होंने सभी पक्षों से जानकारी ली तथा स्थिति शांतिपूर्ण बनाये रखने की अपील की. उन्होंने कहा कि उपद्रवी तत्वों से सतर्क रहने की जरूरत है.

साजिश के तहत हुआ पथराव

विहिप के कुल्टी ब्लॉक अध्यक्ष श्रीराम सिंह ने कहा कि साजिश के तहत रैली पर पथराव किया गया. उन्होंने कहा कि इसकी तैयारी पहले से ही थी तथा पुलिस प्रशासन इसे समझने में विफल रहा.

 

Advertisement

Comments

Advertisement