Advertisement

crime

  • Apr 16 2019 1:57AM
Advertisement

डुमरी में नक्सलियों ने जेएमएम कार्यकर्ता को मारी गोली, मौत

पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर दिया घटना को अंजाम

डुमरी थाना इलाके के कानाडीह गांव की घटना
 
डुमरी : डुमरी थाना क्षेत्र की जरीडीह पंचायत के कानाडीह गांव में रविवार रात को नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर जेएमएम कार्यकर्ता की गोली मार कर हत्या कर दी. इस दौरान नक्सलियों ने घटनास्थल पर पर्चा भी छोड़ा. घटना की सूचना पर सोमवार की सुबह पुलिस पहुंची और घटनास्थल से कई पर्चे समेत एके 47 व इंसास के कई खोखे बरामद किये.
 
पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया. नक्सलियों की इस कार्रवाई से क्षेत्र में भय का माहौल है. बताया जाता है कि कानाडीह निवासी चुड़का सोरेन (40) रविवार की रात को अपने घर के बाहर ही सोया था. इसी दौरान नक्सलियों का दस्ता पहुंचा और अंधाधुंध फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी. गोली की आवाज सुनकर उसकी पत्नी कैली देवी निकली तो अपने पति को मृत पाया. 
 
मेला से घूमकर लौटा था चुड़का: मृतक चुड़का सोरेन की पत्नी कैली देवी ने बताया कि रविवार की शाम को उसके पति बासोकांडो गांव के कुछ लोगों के साथ मेला देखने गये थे.  रात नौ बजे घर लौटने के बाद खाना खाकर घर के बाहर ही सो गये. बाकी लोग घर के अंदर सो गये. रात करीब दस बजे अचानक गोलियों की आवाज सुनायी दी. कुछ देर के लिए उसने दरवाजा नहीं खोला. थोड़ी देर बाद जब वह घर से निकली तो अपने पति को खून से लथपथ देखा. वहीं शरीर में कई गोलियां लगी हुई थी. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement