Advertisement

crime

  • Apr 16 2019 1:45AM
Advertisement

साइबर क्राइम अपराधियों ने खाते से उड़ाये 1़ 13 लाख

मधुबनी : धनहा थाना की मधुबनी पंचायत में एक सप्ताह के अंदर बैंक खाते से साइबर क्राइम के द्वारा ग्राहकों के बैंक खाते से लाखों रुपये उड़ाने का मामला प्रकाश में आया है. मधुबनी गांव निवासी राजू खटीक के खाते से 65000 रुपये की ऑनलाइन निकासी की गयी. मधुबनी गांव निवासी दिनेश्वर पांडेय के खाते से 8000 हजार रुपया साइबर अपराधियों ने फोन करके एक ओटीपी की मांग की.

उनके द्वारा ओटीपी नंबर बताये जाने पर बैंक खाते से पैसा गायब हो गया. वहीं रंगललही गांव निवासी अरविंद सिंह के खाते से 40000 की निकासी साइबर अपराधियों ने कर लिया.

जिसको लेकर अरविंद सिंह ने धनहा थाने में एक आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराया है. उसने आवेदन में लिखा है कि 7431895074 से उसके मोबाइल पर फोन आया था. कॉल करता ने कहा कि आपका खाता बंद होने वाला है. आप आधार नंबर एवं खाते की विवरण जानकारी दीजिये और फोन करता को जानकारी दे दी गयी. उसने आवेदन में बताया है कि कुछ घंटों बाद मोबाइल पर बैंक खाते की जानकारी ली गयी तो खाते से 40000 रुपये गायब था.

वहीं मधुबनी पंचायत के पूर्व सरपंच अमोद मिश्रा की मानें तो उनके भी मोबाइल पर अनजान नंबर से फोन आया था तथा खाते की जानकारी एवं आधार नंबर की मांग की गयी थी. लेकिन पूर्व सरपंच द्वारा नजदीकी बैंक भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में ब्रांच मैनेजर से बातचीत की गयी एवं इसकी जानकारी दी गयी.

ज्ञात हो कि इस तरह की लगातार अनजान नंबरों से फोन आने से लोगों में डर सा बना हुआ है. थानाध्यक्ष शंभु शरण गुप्ता ने बताया कि इन अनजान नंबरों की खोज की जा रही है. उन्होंने ग्रामीणों से अपील किया कि किसी भी व्यक्ति द्वारा आधार नंबर, पिन नंबर या ओटीपी या खाते नंबर की जानकारी नहीं दे.

 

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement