Advertisement

crime

  • Feb 9 2019 2:46AM
Advertisement

रांची : एसआइटी द्वारा तैयार जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा, गैंगस्टर संदीप थापा के पास रांची में है करोड़ों की संपत्ति

रांची  :  एसआइटी द्वारा तैयार जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा, गैंगस्टर संदीप थापा के पास रांची में है करोड़ों की संपत्ति

अमन तिवारी, रांची  : राजधानी के कुख्यात गैंगस्टर रहे और वर्तमान में पलामू जेल में बंद संदीप थापा उर्फ धर्मेंद्र प्रधान और उसके परिवार के पास करोड़ों की नामी और बेनामी संपत्ति है. इस बात का खुलासा रांची पुलिस अधिकारियों द्वारा संदीप थापा की संपत्ति के संबंध में जांच के लिए गठित एसअाइटी की रिपोर्ट से हुआ है.

रांची पुलिस ने ईडी से भी संदीप थापा और उसके सहयोगियों द्वारा आपराधिक घटना को अंजाम देकर अर्जित की गयी संपत्ति की जांच की अनुशंसा की है. 

 पुलिस की जांच रिपोर्ट के अनुसार संदीप पेशेवर अपराधी है. उसका मुख्य पेशा रंगदारी वसूलना, फिरौती के लिए अपहरण करना और पैसे के लिए हत्या करना है. वह स्वयं एवं अपने गिरोह के सहयोग से रंगदारी कर सुखदेवनगर, पंडरा ओपी, रातू थाना क्षेत्र के ठेकेदारों, बिल्डर एवं जमीन कारोबारियों से मोटी रकम एवं जमीन कब्जा कर अपने एवं अपने परिवार व सगे संबंधियों के नाम से संपत्ति अर्जित की है.
 
उसके आतंक के कारण ही क्षेत्र के लोग अपनी जमीन को उसके गुर्गों के इशारे पर औने-पौने दाम में बेच देते हैं. जमीन खरीदने वालों से भी वह मोटी रकम वसूल करता है. उसके और उसके परिवार के पास आलीशान मकान और महंगी गाड़ी है, जो उसके आपराधिक कहानी को बताती है. 
 
करोड़ों में है मकान : जांच रिपोर्ट के अनुसार रातू थाना क्षेत्र के सिमलिया मौजा के दलादली में 50 डिसमिल जमीन में आलीशान मकान बना हुआ है. यह मकान करीब तीन वर्ष पहले बना था, जिसकी वर्तमान कीमत करीब तीन करोड़ रुपये से अधिक है.
 
जांच के क्रम में पुलिस ने पूर्व में संदीप की मां पार्वती देवी और नानी गागो देवी से आयकर रिटर्न भरे जाने से संबंधित कागजात की मांग की थी. तब दोनों ने बताया था कि वे आयकर रिटर्न नहीं भरती हैं. रिपोर्ट के अनुसार मकान में संदीप की मां और नानी के अलावा एक गार्ड रहता है. 
 
गुर्गे के नाम पर है गाड़ी : रिपोर्ट के अनुसार संदीप थापा के घर में मौजूद फॉर्च्यूनर वाहन जेएच01बीएफ की जांच की गयी, जिसकी कीमत करीब 25 लाख रुपये है. वाहन के संबंध में जब रांची पुलिस ने डीटीओ कार्यालय से जानकारी हासिल की तो पता चला कि गाड़ी मधुकम रातू रोड निवासी गौतम सिंह के नाम पर है. गौतम सिंह भी संदीप थापा का गुर्गा है. इसलिए पुलिस ने  ईडी से भी संपत्ति की जांच कर कार्रवाई का अनुरोध किया है. 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement