crime

  • Dec 8 2019 6:47AM
Advertisement

मुजफ्फरपुर के सब रजिस्ट्रार के यहां छापे, 38.50 लाख कैश जब्त

मुजफ्फरपुर के सब रजिस्ट्रार के यहां छापे, 38.50 लाख कैश जब्त

 पटना/मुजफ्फरपुर : निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने शनिवार को मुजफ्फरपुर के सब रजिस्ट्रार संजय कुमार ग्वालिया और समस्तीपुर के प्रवर्तन निरीक्षक (इन्फोर्समेंट ऑफिसर) श्यामनंदन प्रसाद के सात ठिकानों पर छापेमारी की. यह कार्रवाई दोनों अधिकारियों के खिलाफ दर्ज आय से अधिक संपत्ति के मामले में की गयी. संजय कुमार ग्वालिया के मुजफ्फरपुर व पटना स्थित ठिकानों पर की गयी छापेमारी में 38.50 लाख   नकद बरामद किया गया, जबकि करोड़ों रुपये की चल-अचल संपत्ति का पता चला.

 
 ग्वालिया के खिलाफ निगरानी ने दो दिसंबर को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की प्राथमिकी दर्ज की थी. निगरानी ने उनके पास आय के ज्ञात स्रोत से करीब 53.65 लाख रुपये की अधिक संपत्ति होने का साक्ष्य जुटाया है. निगरानी की तीन टीमों ने ग्वालिया के अलग-अलग ठिकानों पर छापे मारे. एक टीम रजिस्ट्री कार्यालय, दूसरी टीम ने दामुचक चौक स्थित मजिस्ट्रेट कॉलोनी के आवास और तीसरी टीम ने पटना में मुंडेश्वरी इन्कलेव के फ्लैट संख्या 206 ए में छापा मारा. 
 
पटना स्थित फ्लैट से 38 लाख रुपये बरामद किये गये, जबकि मुजफ्फरपुर स्थित आवास से 49 हजार 200 रुपये बरामद किये गये. छापेमारी के दौरान ग्वालिया पटना स्थित आवास पर मौजूद थे. निगरानी की टीम ने उनसे पूछताछ भी की है. उनसे हुई पूछताछ के आधार पर मुजफ्फरपुर के सरकारी आवास में दोबारा टीम पहुंची, जहां से रकम की बरामदगी हुई है. 
 
छापे में यहां से किसान विकास पत्र, जमीन के डीड, निवेश आदि के कागजात बरामद किये गये हैं.  निगरानी ब्यूरो ने जानकारी दी है कि श्री गवलिया के पास कई ऐसी संपत्ति की जानकारी मिली है, जिनका जिक्र वार्षिक संपत्ति विवरण में नहीं किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि संपत्ति की कीमत और भी बढ़ सकती है.
 
यहां हुई छापेमारी
1. मजिस्ट्रेट कॉलोनी, दामुचक, मुजफ्फरपुर स्थित सरकारी आवास
2. रजिस्ट्री कार्यालय, मुजफ्फरपुर
3. फ्लैट संख्या - 206ए, मुंडेश्वरी इंक्लेव, पटना
 
बरामदगी
- 38,49200 रुपये कैश
- आठ लाख रुपये के केवीपी व एनएससी
- करोड़ों रुपये के जमीन के दस्तावेज
- स्वर्णाभूषण
 
फ्लैट, जमीन में भारी निवेश
निगरानी के मुताबिक, सब रजिस्ट्रार ग्वालिया की पत्नी जयश्री कुमारी के नाम से पटना के खजपुरा इलाके के मुंडेश्वरी इन्कलेव में दो फ्लैट, स्वयं के नाम से फुलवारीशरीफ इलाके में दो जगहों पर जमीन और पत्नी के नाम से बेगूसराय में 10 डिसमिल जमीन खरीद की गयी है. खुद के नाम पर एसबीआइ की राजाबाजार शाखा में 4.34 लाख और पत्नी के नाम से पीपीएफ खाते में 20 लाख रुपये जमा हैं. पुत्री के नाम से एसबीआइ राजाबाजार में करोब पौने चार लाख रुपये जमा हैं.
 
इन्फोर्समेंट अफसर के ठिकानों पर भी छापेमारी, मिले पांच लाख रुपये
पटना/समस्तीपुर : समस्तीपुर के इन्फोर्समेंट अफसर श्यामनंदन प्रसाद के ठिकानों पर छापेमारी में निगरानी टीम ने करीब पांच लाख नकद जब्त किया है. पटना में तीन व गाजियाबाद में भी एक मकान मिला है. शनिवार को आय के ज्ञात स्रोत से ज्यादा संपत्ति अर्जित करने के मामले में निगरानी की टीम ने उनके पटना के कदमकुआं स्थित दिनकर चौराहे के करीब घर, सैदपुर नहर के करीब स्थित शिवम अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 211 और कंकड़बाग के अशोकनगर स्थित मकान में छापेमारी कर नकद और भारी मात्रा में निवेश के कागजात बरामद किये हैं. 
 
इसके अलावा श्री प्रसाद के समस्तीपुर स्थित कार्यालय और आवास में   नकद, विभिन्न बैंकों में निवेश और जमीन के कागजात बरामद हुए हैं. शनिवार की देर शाम तक उनके सभी ठिकानों पर तलाशी जारी थी.
 
यहां छापे
-दिनकर चौराहा (पटना) स्थित आवास
- फ्लैट नंबर 211, शिवम अपार्टमेंट, पटना
- कंकड़बाग स्थित आवास
- मुसरीघरारी स्थित वास्तु विहार आवास व कार्यालय
 
पत्नी के नाम से गाजियाबाद में मकान
श्री प्रसाद के आवास से मिले दस्तावजों के मुताबिक उनकी पत्नी के नाम यूपी के गाजियाबाद में भी एक मकान की जानकारी मिली है. प्रसाद की दो शादियां होने की भी जानकारी मिली हैं. पहली पत्नी द्वारा भागलपुर कोर्ट में दायर शिकायत के मुताबिक श्यामनंदन प्रसाद ने अवैध आय को छिपाने के लिए पटना के अशोक कुमार अग्रवाल और किशनगंज के परशुराम चौहान के नाम जमीन की खरीद और बिक्री की है. निगरानी ब्यूरो ने दावा किया है कि अशोक कुमार अग्रवाल के नाम पटना में खरीद संपत्ति में श्री प्रसाद का पैसा लगा है. श्री प्रसाद ने अपने रिश्तेदार पटना के अनिल कुमार के नाम भी काफी संपत्ति खरीद की है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement