Advertisement

crime

  • Apr 21 2017 5:55AM

सेना के जवानों ने सब्जी बेचनेवाले बच्चों को पीटा

दानापुर. थाना क्षेत्र के एसडीओ कार्यालय गेट के पास गुरुवार को दोपहर में  सेना  के जवानों ने सब्जी बेच रहे  छोटे-छोटे बच्चों के साथ मारपीट की और सब्जी की टोकरी उठा ले गये. इस पर एसडीओ कार्यालय में तैनात ट्रेजरी गार्ड  बबलू कुमार बच्चों को बचाने गये, तो उनके साथ भी जवानों ने मारपीट की और जबरन अपनी गाड़ी में बैठा कर ले गये.  इसको लेकर एसडीओ कर्मी गोलबंद हो गये. करीब तीन घंटे तक हाइ वोल्टेज ड्रामा चला.  वहीं सेना के जवानों द्वारा सिपाही को उठा कर ले जाने की सूचना पाकर पुलिस एसडीओ कार्यालय पहुंची. एसडीओ संजीव कुमार  व सब एरिया मुख्यालय के सैन्य अधिकारी कर्नल आनंद व कर्नल श्रीमाली के पहल पर स्थित सामान्य हुई. एसडीओ श्री कुमार ने बताया कि सैन्य अधिकारियों ने दोषी जवानों पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. साथ ही श्री कुमार ने बताया कि सिपाही बबलू  व सब्जी बेचनेवाले बच्चों को समझा-बुझा कर मामले को शांत कराया गया. 
 
मुबारकपुर कृषि फार्म निवासी कलावती कुमारी, लीलावती कुमारी, सीमा कुमारी, विकास, राकेश, विक्की व मनोहर आदि बच्चे दोपहर में प्रत्येक दिन दियारा से अपने-अपने खेतों से सब्जी लाकर एसडीओ कार्यालय के गेट के बाहर बेच रहे थे. 
 
गुरुवार को दोपहर में सेना के जवानों ने आकर सब्जी बेच रही बच्चियों के साथ मारपीट की और सब्जी की टोकरी को गाड़ी में डालने लगे. इस पर ट्रेजरी गार्ड बबलू बचाव करने पहुंचे, तो जवान उससे भी उलझ गये . बबलू बच्चों का बचाव करने के बाद अपने बैरक में जाने लगा. इसके बाद जवानों ने  कार्यालय के अंदर से बबलू  को पकड़ लिया और मारपीट करते हुए अपनी गाड़ी में जबरन बैठा कर ले गये. पुलिस ने संत ल्यूक चर्च के पास से बबलू को बरामद किया. बबलू ने जवानों पर मारपीट करने का आरोप लगाया. मोबाइल से फोटो खींच रहे एक दैनिक समाचार के फोटोग्राफर से सैन्य अधिकारी ने मोबाइल छीन लिया. 
 
बाद में सैन्य अधिकारी ने मोबाइल को एसडीओ के हवाले कर दिया. फोटोग्राफर ने स्थानीय थाने में सैन्य अधिकारी पर मोबाइल छीनने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है. इस घटना के बाद एसडीओ कर्मियों में काफी रोष व्याप्त है.  थानाध्यक्ष ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है.

Advertisement

Comments