Advertisement

cricket

  • Aug 18 2019 6:17PM
Advertisement

जब बाउंसर लगने से मुंह के बल नीचे गिरे स्मिथ, तो रुक गयी थी दिल की धड़कन : ऑर्चर

जब बाउंसर लगने से मुंह के बल नीचे गिरे स्मिथ, तो रुक गयी थी दिल की धड़कन : ऑर्चर
pti photo

लंदन : इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने कहा कि दूसरे एशेज टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को चोटिल करने की उनकी कोई योजना नहीं थी, लेकिन जब वह मैदान पर गिरे तब ‘एक पल के लिए सब के दिल की धड़कन रुक गयी' थी.

 

स्मिथ को शनिवार को दूसरे सत्र में आर्चर की गेंद पर चोटिल होने के कारण क्रीज छोड़नी पड़ी थी. यह स्टार बल्लेबाज तब 80 रन बनाकर खेल रहा था जबकि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज आर्चर की 92.3 मील प्रति घंटे की रफ्तार से की गयी गेंद उनके गर्दन और सिर के बीच वाले हिस्से में लगी.

स्मिथ मुंह के बल नीचे गिर गये. उन्होंने जो हेलमेट पहन रखा था उस पर गर्दन के बचाव की सुविधा नहीं थी. हेलमेट में इस तरह की व्यवस्था फिलिप ह्यूज की 2014 में सिडनी में एक घरेलू मैच में बाउंसर लगने से हुई मौत के बाद की गयी थी.

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के चिकित्साकर्मियों ने स्मिथ का मैदान पर ही उपचार किया. इसके बाद वह उठ गये और उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम चिकित्सक रिचर्ड सॉ के साथ लंबी बातचीत के बाद रिटायर्ड हर्ट होने का फैसला किया.

स्मिथ 46 मिनट तक मैदान से बाहर रहने के बाद पीटर सिडल के आउट होने पर फिर से क्रीज पर उतरे और इसके बाद उन्होंने क्रिस वोक्स की जो दूसरी और तीसरी गेंद खेली उस पर चौके लगाये, लेकिन जब वह 92 पर थे तब वोक्स की गेंद पगबाधा हो गए.

शृंखला में यह पहली बार हुआ जब इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शतक पूरा करने से पहले उनका विकेट लिया. स्मिथ के चोटिल होने के बाद मैदान पर गंभीरता नहीं दिखाने के कारण सोशल मीडिया पर आर्चर की आलोचना की गई लेकिन उन्होंने बीबीसी रेडियो से कहा, मेरी ऐसी कोई योजना नहीं थी (बल्लेबाज को चोटिल करने की).

आप पहले विकेट लेने की कोशिश करते है. जब वह गिर रहे थे तब एक पल के लिए सबकी धड़कने रूक गयी थी. उन्होंने कहा, जब वह उठ खड़े हुए और मैदान पर चहल-कदमी करने लगे तब सभी ने राहत की सांस ली. कोई भी किसी को स्ट्रेचर पर मैदान से बाहर जाते नहीं देखना चाहता है. यह अच्छी चुनौती थी, एक शानदार स्पैल.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement