Advertisement

cricket

  • Aug 18 2019 6:03PM
Advertisement

कप्तान करुणारत्ने की शतकीय पारी से श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को हराया

कप्तान करुणारत्ने की शतकीय पारी से श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को हराया
pti photo

गॉल : कप्तान दिमुथ करूणारत्ने की 122 रन की शानदार पारी से श्रीलंका ने न्यूजीलैंड के खिलाफ आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के अपने पहले मुकाबले में रविवार को यहां 268 रन के लक्ष्य को सिर्फ चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

 

करुणारत्ने की यह नौवीं शतकीय पारी रही. उन्होंने इस दौरान सलामी बल्लेबाज लाहिरू तिरिमाने (64) के साथ पहले विकेट के लिए 161 रन की साझेदारी करके दोनों टीमों के बीच पहले विकेट के रिकार्ड की बराबरी की. इस साझेदारी के दम पर मुकाबले के पांचवें दिन श्रीलंका ने छह विकेट की जीत के साथ दो मैचों की शृंखला में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली.

पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने नाबाद 28 रन बनाये. लंच के समय श्रीलंका को जीत के लिए 22 रन चाहिए थे जिसे देखते हुए अंपायरों ने खेल को जारी रखने का फैसला किया. करुणारत्ने को हालांकि किस्मत का भी साथ मिला. वह जब 58 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तब शार्ट लेग पर टाम लैथम ने उनका कैच टपका दिया, इसी स्कोर पर विकेटकीपर बीजे वाटलिंग ने उन्हें स्टंप करने का मौका छोड़ दिया.

उन्होंने 245 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया. टिम साउथी ने उनकी शानदार पारी का अंत किया. करुणारत्ने और तिरिमाने ने दोनों देशों के बीच पहले विकेट के लिए रिकार्ड साझेदारी की बराबरी. हैमिल्टन में 1991 में जान राइट और ट्रेवर फ्रैंक्लिन ने 161 रन की साझेदारी की थी. इस साझेदारी की अहमियत का अंदाजा इसी बात से समझा जा सकता है कि गॉल में कोई भी टीम 99 रन से बड़ा लक्ष्य हासिल नहीं कर पायी है और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के इस मैच में श्रीलंका के लिए यह नया रिकार्ड है.

श्रीलंका ने पांचवें दिन की शुरुआत बिना किसी नुकसान के 133 रन से की. टीम को जीत दर्ज करने के लिए 135 रन की और जरूरत थी. न्यूजीलैंड को पहली सफलता तिरिमाने के विकेट के रूप में मिली.

विलियम समरविले ने उन्हें पगबाधा आउट किया। मैदानी अंपायर ने हालांकि उन्हें नाटआउट करार दिया था लेकिन रिव्यू के बाद तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को पलट दिया. कुसाल मेंडिस ने समरविले की गेंद पर चौका और छक्का लगाकर आक्रामक रूख दिखाया, लेकिन एजाज पटेल की गेंद पर वह जीत रावल को कैच दे बैठे.

करुणारत्ने ने इसके बाद मैथ्यूज के साथ तीसरे विकेट के लिए 44 रन की साझेदारी की. करुणारत्ने और कुसाल परेरा जल्दी-जल्दी आउट हो गये लेकिन धनंजय डि सिल्वा (14) और मैथ्यूज ने इसके बाद दो सत्र बाकी रहते टीम को जीत दिला दी. शृंखला का दूसरा और आखिरी टेस्ट गुरुवार से कोलंबो में खेला जाएगा.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement