Advertisement

cricket

  • May 3 2019 5:48AM
Advertisement

क्रिकेट का महाकुंभ 27 दिन शेष : 20वीं सदी में डेब्यू करनेवाले क्रिकेटर अंतिम बार दिखायेंगे जलवा

क्रिकेट का महाकुंभ 27 दिन शेष : 20वीं सदी में डेब्यू करनेवाले क्रिकेटर अंतिम बार दिखायेंगे जलवा
इंग्लैंड में 30 मई से खेला जानेवाला विश्वकप क्रिकेट 21वीं सदी का 5वां विश्व कप होगा. इन 19 वर्षों के दौरान 20वीं सदी में डेब्यू करनेवाले अधिकांश क्रिकेटरों ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अलविदा बोल दिया है. कुछ ने संन्यास नहीं लिया है, अब भी क्रिकेट में सक्रिय हैं, उनमें से वेस्टइंडीज के क्रिस गेल व पाकिस्तान के शोएब मलिक प्रमुख हैं. 
 
इस बार विश्व कप में 150 खिलाड़ियों में से गेल व शोएब दो ऐसे ही खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 21वीं सदी के शुरू होने से पहले अंतरराष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में पदार्पण किया था. 39 वर्षीय गेल का यह अंतिम विश्व कप होगा, वहीं मलिक की उम्र 37 के करीब हैं और उनके लिए चार वर्षों तक टिका रहना मुश्किल दिख रहा. 
 
विश्व कप के लिए चुने गये 150 क्रिकेटरों में से सिर्फ गेल और मलिक   ऐसे दो क्रिकेटर होंगे, जिन्होंने 2000 से पहले किया था पदार्पण
गेल : 1999 में भारत के खिलाफ खेला पहला मैच
 
वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने 11, सितंबर 1999 को भारत के खिलाफ वनडे पदार्पण किया था. कनाडा के टोरंटो में खेले गये इस मुकाबले में गेल सिर्फ एक रन बना कर पवेलियन लौटे थे. हालांकि अगले कुछ वनडे में शानदार बल्लेबाजी कर टीम में अपनी जगह पक्की कर ली थी.
 
यह होगा पांचवां विश्व कप 
 
2003 में पहली बार विश्व कप में हिस्सा लिया था, इसके बाद गेल 2007, 2011, 2015 में भी वेस्टइंडीज का हिस्सा थे. 
944 रन बनाये हैं 26 मैचों में गेल ने और विश्व कप में दोहरा शतक (215) लगानेवाले पहले बल्लेबाज हैं.
 
12 वर्ष बाद शोएब मलिक की विश्व कप में  वापसी
 
शोएब मलिक के बाद विश्व कप का लंबा अनुभव नहीं है. 2007 विश्व कप टीम में मौका मिला था. 12 वर्ष बाद इस बड़े टूर्नामेंट में वापसी कर रहे हैं. 
 
1999 में पाकिस्तान के ऑलराउंडर मलिक ने अंतरराष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में पदार्पण किया था. हालांकि वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले मैच में बल्लेबाजी नहीं मिली, लेकिन दो विकेट झटके थे. 
 
विश्व कप में सबसे अधिक चमक सचिन व मैक्ग्राथ ने बिखेरी है
 
विश्व कप में क्रिकेट के भगवान कहे जानेवाले सचिन तेंडुलकर और ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्राथ का जलवा रहा है. 20वीं सदी में पदार्पण करनेवाले इन दोनों ने कई वर्ष पहले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया, लेकिन विश्व कप में क्रमश: सबसे अधिक रन बनाये हैं व विकेट झटके हैं, जो विश्व रिकॉर्ड है.  
 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement