Advertisement

Company

  • Sep 12 2019 12:49PM
Advertisement

तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों को IRCTC की सौगात, अब समान ढोने की नहीं रहेगी चिंता, टैक्सी और होटल की सुविधा भी मिलेगी

तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों को IRCTC की सौगात, अब समान ढोने की नहीं रहेगी चिंता, टैक्सी और होटल की सुविधा भी मिलेगी

नयी दिल्ली : आईआरसीटीसी अपनी पहली रेल सेवा दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस को प्रोमोट करने के लिए 25 लाख रुपये का नि:शुल्क यात्रा बीमा देने, बेहद कम कीमत पर यात्रियों का सामान घर से स्टेशन लाने और फिर गंतव्य तक छोड़ने, आराम करने के लिए एक्सक्लूसिव लाउंज मुहैया कराने, टैक्सी और होटल की बुकिंग आदि की सुविधाएं मुहैया करा रही है.

ऐसा पहली बार है जब किसी ट्रेन की पूरी जिम्मेदारी आईआरसीटीसी के कंधे पर होगी. गौरतलब है कि रेलवे ने यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधाएं मुहैया कराने के लिए प्रस्ताव रखा था कि वह 100 दिन के भीतर कुछ विशेष ट्रेनों का संचालन निजी ऑपरेटरों को सौंप सकती है. तेजस का संचालन आईआरसीटीसी को सौंपना इसी दिशा में एक कदम है. ट्रेन के संचालन से जुड़े दस्तावेज के अनुसार, ‘‘आईआरसीटीसी की दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस से यात्रा करने वाले यात्रियों को 25 लाख रुपये का नि:शुल्क यात्रा बीमा दिया जाएगा. इस ट्रेन के यात्रियों को लखनऊ जंक्शन पर प्रतीक्षालय और नयी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर एक्जिक्यूटिव लाउंज और बैठकों के लिए लाउंज की सुविधा उपलब्ध होगी.' इन ट्रेनों में कोई छूट, विशेष सुविधा या ड्यूटी पास लागू नहीं होगा. पांच साल से ज्यादा उम्र के बच्चों के लिए पूरा किराया लगेगा.

उसमें कहा गया है, ‘‘तत्काल कोटा की कोई सुविधा नहीं होगी. एक्जिक्यूटिव श्रेणी और एसी चेयर कार श्रेणी के प्रत्येक डिब्बे में पांच सीटें विदेशी पर्यटकों के लिए आरक्षित होंगी.' दस्तावेज के अनुसार, इस ट्रेन का किराया डायनेमिक होगा और इसी मार्ग पर चलने वाली टैक्सी, बसों और विमान सेवाओं के साथ प्रतियोगी भी होगा. उसमें कहा गया है कि किराया मांग और भीड़ वाले तथा त्योहार के सीजन पर आधारित होगा. इस ट्रेन के लिए बुकिंग यात्रा से 60 दिन पहले की जा सकेगी, जबकि सामान्य रेलवे बुकिंग यात्रा से 120 दिन पहले की जा सकती है.

ट्रेन में चेयर कार भी होगा जिसमें यात्री पहले आओ - पहले पाओ के आधार पर समूह में टिकट बुक कर सकेंगे. सामूहिक बुकिंग के लिए एक डिब्बे में 78 सीटें उपलब्ध होंगी. बुकिंग यात्रा से कम से कम तीन दिन पहले करानी होगी. यह सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध होगी. यात्रियों को उनकी मांग के अनुसार, नि:शुल्क वेंडिंग मशीन की चाय, कॉफी और आरओ का पानी महैया कराया जाएगा.

विमान सेवाओं की तरह ट्रेन में भोजन उसके कर्मचारी परोसेंगे. ट्रेन सप्ताह में छह दिन चलेगी. मंगलवार को यह सुविधा उपलब्ध नहीं होगी. ट्रेन दिल्ली से शाम साढ़े चार बजे रवाना होगी और रात पौने ग्यारह बजे लखनऊ पहुंचेगी. वापसी में ट्रेन लखनऊ से सुबह छह बजकर 10 मिनट पर रवाना होगी और दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर दिल्ली पहुंचेगी. हालांकि सभी चीजों को अभी अंतिम रूप दिया जाना बाकी है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement