Advertisement

Company

  • Jan 18 2019 4:29PM

अगले पांच साल के दौरान गुजरात में 55 हजार करोड़ से अधिक का इन्वेस्टमेंट करेंगे गौतम अडाणी

अगले पांच साल के दौरान गुजरात में 55 हजार करोड़ से अधिक का इन्वेस्टमेंट करेंगे गौतम अडाणी

गांधीनगर : उद्योगपति गौतम अडाणी ने अगले पांच साल में गुजरात में विभिन्न परियोजनाओं में 55 हजार करोड़ रुपये से अधिक निवेश करने की शुक्रवार को घोषणा की. इनमें विश्व का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा पार्क, एक तांबा संयंत्र, एक सीमेंट इकाई और लीथियम बैटरी का एक विनिर्माण संयंत्र शामिल है. इस निवेश से राज्य में रोजगार के 50 हजार से अधिक प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष अवसर सृजित होंगे. अडाणी ने नौवें वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन में यहां कहा कि उनके समूह ने गुजरात में पिछले पांच साल में 50 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है और आने वाले समय में निवेश को बढ़ाया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : अडाणी को मिला 21 शहरों में सीएनजी-पीएनजी बेचने का लाइसेंस

उन्होंने कहा कि अगले पांच सााल में हमारे निवेश में खावड़ा में विश्व का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा हाइब्रिड पार्क शामिल है. हमारा अनुमान है कि इस पार्क में 30 हजार करोड़ रुपये का निवेश होगा. अडाणी समूह ने गुरुवार को 16 हजार करोड़ रुपये के निवेश से पेट्रो रसायन कारोबार में उतरने की घोषणा की थी.

उन्होंने कहा कि हम मुंद्रा में एक गीगावाट डेटा सेंटर पार्क, 10 लाख टन क्षमता वाला तांबा संयंत्र, लखपत में एक सीमेंट और क्लिंकर विनिर्माण संयंत्र, लीथियम बैटरी विनिर्माण का एक एकीकृत परिसर तथा फोटोवॉल्टेक विनिर्माण क्षमताओं का विस्तार शामिल है. कुल मिलाकर हमारा अनुमान है कि इन परियोजनाओं पर 55 हजार करोड़ रुपये से अधिक का निवेश होगा.

शुक्रवार को घोषित 55 हजार करोड़ रुपये से अधिक के निवेश में पेट्रोरसायन कारोबार का निवेश शामिल नहीं है. अडाणी ने इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण की सराहना की. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने दुनिया भर में यह भरोसा फिर से स्थापित किया है कि भारत वैश्विक आर्थिक वृद्धि का मुख्य इंजन बनेगा.

उन्होंने कहा कि मुद्रास्फीति की कम दरों के साथ अर्थव्यवस्था के बुनियादी तत्वों को स्थापित करने, राजकोषीय घाटा का सख्त प्रबंधन, स्वतंत्रता के बाद का सबसे बड़ा कर सुधार जीएसटी, दिवाला एवं ऋणशोधन अक्षमता संहिता का क्रियान्वयन और दुनिया के प्रमुख देशों के साथ भारत का संबंध मजबूत करने की आपकी (मोदी की) क्षमता ने देश को निवेश के लायक सबसे अच्छे देशों में से एक बना दिया है. अडाणी ने कहा कि और आपके मार्गदर्शन में भारत 2019 में विश्व की शीर्ष पांच अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो जायेगा.

Advertisement

Comments

Advertisement