Company

  • Jan 22 2020 6:16PM
Advertisement

बिजली उत्पादक कंपनियों का अप्रैल-दिसंबर में 17.6 फीसदी बढ़ा कोयला आयात

बिजली उत्पादक कंपनियों का अप्रैल-दिसंबर में 17.6 फीसदी बढ़ा कोयला आयात

नयी दिल्ली : बिजली उत्पादक कंपनियों का कोयला आयात चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-दिसंबर अवधि में 17.6 फीसदी बढ़कर 5.24 करोड़ टन रहा. एक साल पहले इसी अवधि में कंपनियों ने 4.46 करोड़ टन कोयले का आयात किया था. केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के आंकड़ों से यह जानकारी प्राप्त हुई.

अडाणी पावर और एनटीपीसी समेत अन्य कंपनियों के अधिक उपभोग की वजह से इस अवधि में कोयले के आयात में तेजी दर्ज की गयी. वर्ष 2019-20 के पहले नौ महीने में अडाणी पावर के मुंदड़ा संयंत्र ने अकेले 1.28 करोड़ टन कोयले का आयात किया है. यह एक साल पहले की इसी अवधि की तुलना में 45 फीसदी अधिक है.

इससे पहले, अप्रैल-दिसंबर 2018-19 में उसने 88.1 लाख टन कोयले का आयात किया था. हालांकि, अडाणी के उडुपी संयंत्र का कोयला आयात 47.8 फीसदी गिरकर 9.9 लाख टन रह गया. एक साल पहले इसी दौरान उसने 19.1 लाख टन कोयले का आयात किया था.

इस दौरान, एनटीपीसी का कोयला आयात छह गुना बढ़कर 19 लाख टन रहा, जो कि इसी अवधि में एक साल पहले 3.2 लाख टन रहा था. तमिलनाडु की सरकारी कंपनी तमिलनाडु जेनरेशन एंड डिस्ट्रीब्यूशन कॉरपोरेशन लिमिटेड का आयात भी 74.8 फीसदी बढ़कर 36.9 लाख टन हो गया. वर्ष 2018-19 की अप्रैल-दिसंबर अवधि में यह आंकड़ा 21.1 लाख टन था.

आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2019 में कुल 59.5 लाख टन कोयला का आयात किया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष के इसी महीने 55.4 लाख टन था.

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement