Advertisement

champaran West

  • Apr 21 2017 6:27AM

हैरत में गांववाले, मदरसा शिक्षक का बेटा निकला आतंकी

हैरत में गांववाले, मदरसा शिक्षक का बेटा निकला आतंकी
बेतिया (पश्चिमी चंपारण) : यूपी एटीएस के साथ बेतिया पुलिस ने बेलवा गांव से एहतेसामुल को गिरफ्तार किया़  इस पर गांववालों को हैरत हो रही थी कि मदरसे में पढ़ानेवाले शिक्षक का बेटा आतंकी कैसे बन गया़ ग्रामीणों ने का कहना है कि वह कभी गांव में भी आता था, तो लोगों से अधिक मेल-जोल नहीं रहता था.
 
वह घर से अगर निकलता था, तो कहीं बाहर जाने के लिए ही निकलता था. आतंकी संगठन आइएसआइएस का सदस्य इहतेसामुल हक छह भाई व तीन बहन हैं. वह  मां-बाप का पांचवी संतान है, जबकि भाई में उसकी नंबर तीन है. इहतेसामुल की शिक्षा-दीक्षा पूर्वी चंपारण के रामगढ़वा थाने के खैरवा  मदरसा में हुई है. 
 
40 दिनों के लिए जमात में गया था इहतेसामुल : इहतेसामुल की मां सलमुन नेशा बताया कि उनका बेटा जमाती हो गया था. वह हाल के दिनों में 40 दिन के लिए जमात में बाहर गया था. दो दिन पूर्व ही घर वापस लौटा था. लेकिन जमात में कहां गया था? इस संबंध में परिजन बताने से बचते रहे.
 
दो साल पहले गया था ओमान
 
गिरफ्तार एहतेसामुल दो साल पूर्व खाड़ी देश ओमान गया था. वहां से वह पिछले साल ही वापस आया है. माना जा रहा है कि ओमान में रहते हुए ही वह आइएसआइएस के संपर्क में आया. एटीएस व पुलिस की पूछताछ में आतंकी इहतेसामुल ने दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकियों में से एक पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर काफी प्रभावित था. उसका यू-ट्यूब पर दिये गये वक्तव्यों को काफी सुनता है. 
 
आतंकी मसूद अजहर के भाषणों से प्रेरित होकर उसने आतंकी संगठनों से संपर्क साधा और आइएसआइएस से जुड़ गया. वहीं, मदरसा शिक्षक महम्मद अलाउद्दीन की पत्नी सलमुन नेशा का कहना है कि इहतेसामुल हक आतंकी नहीं है. एक साजिश के तहत उसके बेटे को यूपी एटीएस व पुलिस की टीम  ने गिरफ्तार किया है. 

Advertisement
पोल
इस बार गुजरात में किसकी बनेगी सरकार? क्या है आपकी राय बतायें?


View Result
Advertisement

Comments