Advertisement

champaran West

  • Mar 14 2019 1:37AM
Advertisement

विधायक विनय, पूर्व सांसद वैद्यनाथ समेत पांच का सरेंडर

बेतिया : आंदोलन के तहत रेल परिचालन ठप करने के एक मामले में अभियुक्त बने पूर्व सांसद वैद्यनाथ महतो, लौरिया विधायक विनय बिहारी, पूर्व विधायक प्रदीप सिंह, पूर्व विधायक प्रभात रंजन व मुरली मनोहर गुप्ता ने बुधवार को कोर्ट में सरेंडर किया. जहां सुनवाई के बाद स्पेशल कोर्ट ने सभी को जमानत दे दिया है. हालांकि इसको लेकर कोर्ट में काफी गहमागहमी का माहौल रहा.

जानकारी के अनुसार, सात नवंबर 2013 को साढ़े दस बजे दिन में जदयू के वाल्मीकिनगर के तत्कालीन सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो के नेतृत्व में नरकटियागंज रेलवे स्टेशन के पूरब समपार फाटक संख्या 22 ए के पास रेल लाइन के उपर पार्टी का झंडा लगाकर रेल का परिचालन रोक दिया गया.

साथ ही ध्वनि विस्तारक यंत्र लगाकर रोड ओवरब्रिज के निर्माण की मांग के लिए भाषण व नारेबाजी की गयी. जिससे सरकारी कार्य में बांधा पहुंची यात्री परेशान हुए. इस संबंध में नरकटियागंज के रेल स्टेशन प्रबंधक केके पांडेय द्वारा रेल थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी. इसमें तत्कालीन सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो, लौरिया विधायक विनय बिहारी, पूर्व विधायक प्रदीप सिंह, बगहा विधायक प्रभात रंजन सिंह, पूर्व विधायक खुर्शीद आलम समेत 400 अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गयी थी.

इसी मामले में बुधवार को न्यायालय में बैद्यनाथ प्रसाद महतो, विनय बिहारी, प्रदीप सिंह, प्रभात रंजन सिंह और मुरली मनोहर गुप्ता ने आत्मसर्मपण  कर जमानत आवेदन दाखिल किया. जिसपर सुनवाई के बाद एमपी एमएलए के लिए बनाये गये स्पेशल कोर्ट सह सब जज प्रथम योगेश शरण त्रिपाठी ने उनलोगो का जमानत मंजूर कर लिया.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement