Advertisement

calcutta

  • Sep 16 2019 8:23AM
Advertisement

कोल इंडिया : संयुक्त मोर्चा ने हड़ताल को लेकर बात करने से किया इनकार

कोलकाता : केंद्र सरकार के प्रयासों के बाद भी कोयला क्षेत्र के श्रमिक संगठनों की 24 सितंबर से प्रस्तावित हड़ताल के टलने के आसार कम हैं.  एक मजदूर नेता ने यह जानकारी दी़. मजदूर नेता ने यह भी कहा कि हड़ताल के कारण कोयला उत्पादन निर्बाध रह सके, इसकी संभावना भी कम है. 
 
ऑल इंडिया कोल वर्कर्स फेडरेशन के महासचिव डीडी रामानंदन ने कहा कि संयुक्त कोयला सचिव ने एक बैठक बुलायी है. हम बैठक में हिस्सा लेंगे, लेकिन हम किसी भी सूरत में हड़ताल से पीछे नहीं हटेंगे, क्योंकि सरकार निजीकरण के रास्ते पर आगे बढ़ रही है. 
 
कोयला क्षेत्र के पांच श्रमिक संगठनों ने कोयला उत्खनन में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआइ) के सरकार के निर्णय के विरोध में 24 सितंबर को हड़ताल का आह्वान किया है. हालांकि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़़ी यूनियन भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) पांच संगठनों की एक दिवसीय हड़ताल में शामिल नहीं है. बीएमएस ने इसी मुद्दे पर 23 सितंबर से 27 सितंबर तक हड़ताल का आह्वान किया है. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement