Advertisement

calcutta

  • Aug 23 2019 1:58AM
Advertisement

बिना वजह हॉर्न बजाना पड़ा महंगा 1695 लोगों से वसूला गया जुर्माना

बिना वजह हॉर्न बजाना पड़ा महंगा 1695 लोगों से वसूला गया जुर्माना
  •  शहर के 700 स्थानों को चिन्हित कर पुलिस ने वहां 'नो हॉर्न जोन' का लगाया बोर्ड
  • बुधवार को 955 व गुरुवार को 740 वाहन चालकों से वसूला गया जुर्माना
  • पुलिस का कहना : जुर्माना वसूलने के साथ उनके वाहनों पर 'नो हॉर्न' का चिपकाया गया स्टिकर
कोलकाता :  महानगर में ड्राइविंग के दौरान बिना वजह हॉर्न बजाते हुए गाड़ी चलाने वाले चालकों पर पुलिस अब सख्ती से निपट रही है. कोलकाता ट्रैफिक पुलिस की तरफ से दो दिनों में इस तरह से 1695 वाहन चालकों से जुर्माना वसूलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. 
 
 इस मामले में कोलकाता ट्रैफिक पुलिस के डीसी संतोष पांडेय ने बताया कि कोलकाता ट्रैफिक पुलिस की तरफ से महानगर के 700 ऐसे जगहों को चिन्हित किया गया है, जहां हॉर्न बजाने से आपत्ति हो सकती है. ऐसे स्थानों में अस्पताल, स्कूल, कॉलेज, दार्शनिक स्थल समेत अन्य कुछ जगह हैं. 
 
उन जगहों में नो हॉर्न जोन का स्टिकर भी लगा दिया गया है. इसके बावजूद बिना वजह हॉर्न बजा रहे चालकों को चिन्हित कर उनके सख्त कार्रवाई की गयी. ऐसे वाहनों में भी स्कूली बच्चों द्वारा नो हॉर्न की स्टिकर लगायी गयी, जिससे इनके जरिये अन्य वाहन चालकों तक पुलिस का यह मैसेज पहुंच सके.
 
 इस कड़ी में बुधवार को पूरे महानगर से 955 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गयी, जबकि गुरुवार को सुबह से लेकर शाम तक कुल 740 लोगों का चालान काटा गया है. जिन लोगों का चालान काटा गया है, उनके खिलाफ पश्चिम बंगाल मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 220 और मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 177 के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की गयी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement