Advertisement

calcutta

  • Jul 12 2019 1:55AM
Advertisement

अब कोलकाता के विद्यार्थियों को भी सबुज साथी योजना का लाभ

अब कोलकाता के विद्यार्थियों को भी सबुज साथी योजना का लाभ

अभी तक जिलों में विद्यार्थियों को मिलती है साइकिल

दार्जिलिंग में मिलता है रेन कोट
 
कोलकाता : ‘सबुज साथी’ योजना का लाभ कोलकाता के विद्यार्थियों को भी मिलेगा. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को इसकी घोषणा की. अभी यह योजना जिलों में चल रही है. इस योजना के तहत विद्यार्थियों को साइकिल दी जाती है. दार्जिलिंग के विद्यार्थियों को साइकिल की जगह रेन कोट दिये जाते हैं.
 
सुश्री बनर्जी ने नजरूल मंच में बेलतला गर्ल्स स्कूल के शतवार्षिकी कार्यक्रम में कहा कि कोलकाता की सड़कों पर साइकिल नहीं चलती है. इसलिए यहां के विद्यार्थियों को साइकिल की जगह कुछ अन्य सामान देने पर विचार किया जा रहा है. सूत्रों का कहना है कि राज्य सरकार कोलकाता महानगर के बच्चों को साइकिल के बदले बैग, छाता, रेनकोट आदि देने पर विचार कर रही है. 
 
बच्चों को दी जाये नैतिक शिक्षा: मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूलों के पाठ्यक्रम में कंप्यूटर साइंस जैसे विषय शामिल हैं, लेकिन मौजूदा दौर में बच्चों को नैतिक मूल्यों, मानवता, सच्चाई, स्वच्छता आदि की शिक्षा भी दी जानी चाहिए, ताकि उनमें एक दृष्टिकोण और मिशन की भावना विकसित हो सके. कोशिश होनी चाहिए कि नकारात्मक सोच की जगह बच्चों में सकारात्मक सोच बढ़े. 
 
सुश्री बनर्जी ने कहा कि बच्चों को अलग-अलग भाषा की जानकारी भी होनी चाहिए. बच्चे अन्य भाषाएं भी सीखें, लेकिन बांग्ला की उपेक्षा नहीं करें. उन्होंने कहा कि बेलतला गर्ल्स स्कूल में एक सेक्शन अंग्रेजी माध्यम का भी खुलेगा.  स्कूल के विकास के लिए 1.25 करोड़ रुपये का अनुदान देते हुए उन्होंने प्रस्ताव दिया कि यदि स्कूल को जगह की जरूरत होगी, तो राजारहाट में राज्य सरकार जमीन देने के लिए तैयार है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement