Advertisement

calcutta

  • Jun 11 2019 2:24AM
Advertisement

CM ममता बनर्जी ने कहा- सरकार गिराने का हो रहा प्रयास, TMC बंगाल को गुजरात नहीं बनने देगी

CM ममता बनर्जी ने कहा- सरकार गिराने का हो रहा प्रयास, TMC बंगाल को गुजरात नहीं बनने देगी

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि शनिवार को संदेशखाली में हुई हिंसा में दो लोग मारे गये थे और भाजपा का पांच लोगों के मारे जाने का दावा झूठा है. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा हिंसा भड़काने की और फर्जी खबरें फैलाकर उनकी सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है.

 
तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल को एक और गुजरात नहीं बनने देगी. सुश्री बनर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा पश्चिम बंगाल को भेजे परामर्श को ‘पर्दे के पीछे से खेला जा रहा खेल' करार दिया और कहा कि राज्य के मुख्य सचिव इसका जवाब दे चुके हैं. मुख्यमंत्री ने राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से कहा : वे (भाजपा) सोशल मीडिया के माध्यम से फर्जी खबरें फैलाने के लिए करोड़ों रुपये खर्च कर रहे हैं. केंद्र सरकार और (भाजपा) पार्टी के कार्यकर्ता राज्य में हिंसा भड़काने की कोशिश कर रहे हैं. हम बंगाल को एक और गुजरात नहीं बनने देंगे.
 
मुख्यमंत्री ने मीडिया पर भी भाजपा के इशारे पर गलत जानकारी प्रसारित करके राज्य का अपमान करने का आरोप लगाया. उन्होंने राज्य विधानसभा चुनाव 2021 से पहले होने की अटकलों को भी खारिज कर दिया. ममता ने आरोप लगाया कि लोकसभा चुनाव जीतने के बाद कुछ केंद्रीय नेताओं के इशारे पर भाजपा एक साजिश के तहत दार्जिलिंग और जंगलमहल इलाकों में हिंसा फैलाने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा :  भाजपा को ‘आग से नहीं खेलना चाहिए. हम उनकी साजिश का शिकार नहीं होंगे और लोगों से शांत रहने को कहेंगे.'
 
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के बाद हिंसा की घटनाएं तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच टकराव का विषय बन गयी हैं. उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में शनिवार रात भड़की हिंसा के बाद तीन लोगों के शव बशीरहाट अस्पताल लाये गये थे. भाजपा नेताओं ने दावा किया था कि इनमें से दो लोग उनके समर्थक थे वहीं तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि एक उनका सक्रिय कार्यकर्ता था. दोनों दलों ने दावा किया कि उनके कई समर्थक हिंसा के बाद से लापता हैं.
 
पुलिस और उत्तर 24 परगना जिले के अधिकारियों ने शनिवार के बाद हुए संघर्षों के बारे में कुछ नहीं बोला और मृतकों की संख्या पर कोई बयान नहीं दिया. हालांकि सुुश्री बनर्जी ने कहा कि मृतकों की संख्या दो है. उन्होंने इसका ब्योरा नहीं दिया और भाजपा पर राज्य में हिंसा फैलाने का आरोप लगाया. उन्होंने राज्य में जल्द विधानसभा चुनाव को लेकर मीडिया में चल रही अटकलों की आलोचना करते हुए उन्हें खारिज कर दिया.
 
उन्होंने कहा : चुनाव दो साल बाद होंगे. लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में कोई संबंध नहीं है. आप गलत खबरें चला रहे हैं. उन्होंने संवाददाताओं से कहा : आप वही लिख रहे हो जो भाजपा नेता आपसे कह रहे हैं. आपने यह क्यों लिखा कि चार या पांच लोग मारे गये हैं? आप भाजपा नेताओं के दावों की जांच नहीं कर रहे. मुझे पता है कि भाजपा आपको विज्ञापन देती है. मुझे सब पता है. 
 
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में छिटपुट घटनाएं घटीं. वो भी भाजपा की वजह से. उन्होंने खुद को भगवान समझना शुरू कर दिया है. लेकिन याद रखिये, हमने घटनाओं को नियंत्रित कर लिया है. बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में आज के हालात की तुलना 2009 में माकपा की अगुवाई वाली वाम मोर्चा सरकार के समय से किये जाने पर कहा, ‘अब और तब के हालात में बहुत अंतर है.'
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement