Advertisement

calcutta

  • Jul 12 2018 4:15AM

अब मोदी को तृणमूल दिखायेगी ममता की क्षमता

अब मोदी को तृणमूल दिखायेगी ममता की क्षमता
कोलकाता : भाजपा अध्यक्ष  अमित शाह अपने पुरुलिया सफर में जो देख कर गये हैं, उसी की झलक प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी को भी दिखाने की तैयारी में है तृणमूल कांग्रेस. तृणमूल के नेताओं के मुताबिक प्रधानमंत्री के पश्चिम मेदिनीपुर दौरे के दौरान सीएम ममता बनर्जी के विकास की बात ही केवल उभर कर सामने आयेगी. यह नजारा खुद अमित शाह देख चुके हैं. उनके सफर के दौरान भाजपा का झंडा नजर नहीं आया. अलबत्ता सड़कों पर ममता बनर्जी का कट आउट और तृणमूल कांग्रेस का झंडा दिखा था. 
 
उल्लेखनीय है कि अमित शाह के सफर के दौरान कोलकाता समेत उनके सभी रूट पर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा उनके स्वागत में तोरण, कट आउट व झंडे लगाये गये थे. भाजपा का आरोप है कि  प्रशासन की मदद से उसे हटा देने के साथ ही रातों-रात वहां ममता बनर्जी के कटआउट और तृणमूल के झंडे लगा दिये गये.  
 
तृणमूल कांग्रेस के नेताओं का दावा है कि सुश्री बनर्जी के कारण पश्चिम बंगाल में काफी विकास हुआ है. यह बात प्रधानमंत्री को भी बताया जायेगा. अपनी रणनीति के तहत पश्चिम मेदिनीपुर जिले के तृणमूल कांग्रेस के नेता तैयारी करने लगे हैं. जिन रास्तों से होकर प्रधानमंत्री गुजरेंगे, उन रास्तों पर दोनों तरफ ममता बनर्जी के 15 से 20 फीट के कटआउट नजर आयेंगे. अभिषेक बनर्जी का भी ममता के साथ कटआउट नजर आयेगा. यह सब 16 जुलाई के पहले रात में ही लग जायेगा.
 
इसकी जिम्मेवारी जिला तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व की होगी. तृणमूल कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक कुछ दिन पहले ही पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सुब्रत मुखर्जी ने जिला नेतृत्व को कहा है कि मोदी के जिला दौरे के पहले ही पूरे इलाके को तृणमूल के प्रचार से पाट देना होगा. इसके अलावा इलाकों में ममता बनर्जी के विकास कार्यों का विवरण देते हुए प्रचार करना होगा. हालांकि तृणमूल ने अमित शाह के बंगाल दौरे के समय यही रणनीति अपनायी थी.
 
यह समझते हुए अमित शाह ने अपनी जनसभा में कहा था कि मुझे देखने के लिए ही ममता बनर्जी यह सब कर रही हैं. 
उधर, प्रधानमंत्री कलाईकुंड़ा एयर बेस पर उतरने के बाद सड़क पथ से तकरीबन 20 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए सभास्थल पर पहुंचेंगे. खड़गपुर व मेदिनीपुर शहर की सभा स्थल पर पहुंचने के लिए 20 किलोमीटर का सफर तय करना होगा. पश्चिम मेदिनीपुर तृणमूल कांग्रेस के जिला कार्यकारी अध्यक्ष निर्मल घोष के मुताबिक कटआउट और झंडे ही नहीं, हम ममता बनर्जी के बैनर और पोस्टर से इलाके को पाट देंगे. हम सवाल करेंगे कि इस राज्य में किसान आत्महत्या नहीं करते, फसल खराब होने पर किसानों को मुआवजा मिलता है. किसानों को फसल का समर्थन मूल्य मिलता है. प्रधानमंत्री इससे सीख लें. 
 
पीएम की सभा में जाने से रोके जा रहे भाजपा कार्यकर्ता 
तृणमूल कांग्रेस की इस रणनीति पर प्रदेश भाजपा के महासचिव संजय सिंह का कहना है कि अमित शाह के स्वागत में खुद ममता बनर्जी सड़कों पर खड़ी थीं. यह उन्होंने साबित किया और खुद अमित शाह ने भी कहा कि उनके स्वागत में हर जगह ममता बनर्जी खड़ी नजर आयी हैं.
 
हालांकि ममता बनर्जी जिस तरह की राजनीति भारतीय लोकतंत्र में कर रही हैं, वही नीति उनके साथ देश के बाकी हिस्से में हो, तो शायद उन्हें मलाल नहीं होगा. वहीं, जवाब में भाजपा के प्रदेश महासचिव संजय सिंह कहते हैं कि ममता बनर्जी के लोग लोगों को डरा रहे हैं, ताकि वे प्रधानमंत्री की सभा में नहीं जायें. इसके लिए गांवों और इलाकों में गुंड़ों की फौज पहुंच गयी है. लिहाजा वह आगाह करना चाहते हैं कि तृणमूल कांग्रेस हम कम न समझे. ममता बनर्जी को अपना दिल्ली सफर याद रखना होगा.
 

Advertisement

Comments