Advertisement

calcutta

  • Feb 11 2019 3:18AM

कोलकाता : तृणमूल विधायक की हत्या पर फिर गरमायी राजनीति, भाजपा ने रची सािजश : फिरहाद

कोलकाता :  तृणमूल विधायक की हत्या पर फिर गरमायी राजनीति, भाजपा ने रची सािजश : फिरहाद

 कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस के विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या के बाद राज्य में राजनीति गरमा गयी है. अभी हत्या की वजह स्पष्ट भी नहीं हो पायी और सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस की तरफ से भाजपा पर आरोप लगाये जाने लगे हैं. उधर, भाजपा ने इसे तृणमूल की आपसी गुटबाजी का नतीजा करार दिया है. 

राज्य के शहरी विकास मंत्री फरहाद हकीम ने विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या के लिए सीधे भाजपा पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि विश्वास मतुआ समुदाय से आते थे, जिसका बंगाल में अच्छा खासा जनाधार है. उन्होंने कहा  कि प्रधानमंत्री पिछले हफ्ते मतुआ समुदाय को लुभाने के लिए ठाकुरनगर आये थे और अब राजनीतिक जमीन हासिल करने के लिए ही स्थानीय भाजपा नेता आपराधिक गतिविधियों का सहारा ले रहे हैं.
 
भाजपा कार्यकर्ता ने ली है जान : विधायक की पत्नी
तृणमूल विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या मामले में मृतक की पत्नी रूपाली विश्वास हालदार ने दावा किया है कि इलाके का एक युवक ने ही जान ली है. वह भाजपा का कार्यकर्ता है. उन्होंने कहा : मैंने पति के मुंह से ही सुना था कि वह युवक एक दिन पहले ही तृणमूल से भाजपा में शामिल हुआ था. इस घटना के पीछे उसका ही हाथ है. भाजपा ने साजिश के तहत हत्या की है.
 
24 घंटे में दो अधिकारियों पर गिरी गाज, थाना प्रभारी और विधायक के अंगरक्षक निलंबित
कोलकाता. नदिया जिले के कृष्णगंज के तृणमूल कांग्रेस विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या के मामले में 24  घंटे के अंदर ही दो अधिकारियों पर गाज गिर गयी. इनमें काम में लापरवाही बरतने के आरोप में हांसखाली थाना प्रभारी अनिंदो बसु और विधायक के अंगरक्षक को निलंबित कर दिया गया है. साथ ही विभागीय जांच के निर्देश भी दिये गये हैं. बताया जा रहा है कि विधायक के अंगरक्षक की शनिवार को छुट्टी थी.
 
घटना स्थल का सीआइडी ने लिया जायजा
कोलकाता. नदिया जिले के हांसखाली थानांतर्गत फूलबाड़ी इलाके में आयोजित सरस्वती पूजा के कार्यक्रम के दौरान कृष्णगंज के तृणमूल विधायक सत्यजीत विश्वास की हुई हत्या मामले में रविवार को सीआइडी की टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया. मौके पर फाॅरेंसिक टीम और स्निफर डॉग की टीम भी पहुंची थी. फाॅरेंसिक टीम के विशेषज्ञों ने घटनास्थल से कुछ नमूने लिये.
 
फाॅरेंसिक विभाग के विशेषज्ञ सी सरकार ने बताया कि घटनास्थल से कई सारे नमूने लिये गये है. इसे लैब में भेजा जायेगा. इधर, स्नीफर डॉग के जरिे इलाके में काफी देर तक जांच-पड़ताल की. हांसखाली थाने के साथ-साथ सीआइडी की टीम भी पूरे मामले की जांच में जुटी है. पुलिस के मुताबिक, विश्वास को प्वाइंट ब्लैंक रेंज से गोली  मारी गयी, जो कि कार्यक्रम समाप्त होने के बाद उतरते समय ठीक कान के पास से गोली मारी गयी थी.
 
रिवाल्वर घटनास्थल से बरामद की गयी है, लेकिन कारतूस का पता नहीं चल पाया है. समारोह से भागते हुए सुजीत और कार्तिक को लोगों ने देख कर दबोचा और पुलिस के हवाले किया है. पुलिस का कहना है कि भाजपा नेता मुकुल राय, सुजीत  मंडल, कार्तिक मंडल और क्षेत्र के निवासी अभिजीत पांडे के खिलाफ एक  प्राथमिकी दर्ज की है.
 
इसमें कार्तिक और सुजीत को गिरफ्तार किया गया है और  साथ ही एफआइआर में दर्ज नाम के अलावा तीन अन्य को हिरासत में लिया गया है. गिरफ्तार सभी से पूछताछ जारी है.फिलहाल हत्या के पीछे कौन-कौन शामिल हैं और क्या कारण है. यह  अभी भी स्पष्ट नहीं हो पाया है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement