Advertisement

calcutta

  • Jun 15 2019 4:18PM
Advertisement

पश्चिम बंगाल : हड़ताली चिकित्सकों ने ठुकरायी सीएम ममता की ‘नवान्न वार्ता’

पश्चिम बंगाल : हड़ताली चिकित्सकों ने ठुकरायी सीएम ममता की ‘नवान्न वार्ता’

- डाक्टरों की गवर्निग बाड़ी ने दिया अल्टीमेटम 

- जब अपमान सार्वजनिक हुआ तो बातचीत बंद कमरे में क्यों? 

कोलकाता : जूनियर डॉक्टरों पर हुए हिंसक हमले के बाद से सुरक्षा-सम्मान की मांग को लेकर लगातार चार दिनों से हड़ताल पर बैठे चिकित्सकों का आंदोलन जोर पकड़ता ही जा रहा है. देशभर के डॉक्टरों का समर्थन भी मिल रहा है. चिकित्सकों में अधिक रोष का कारण है ममता बनर्जी का वह बयान जिसमें उन्होंने कहा था कि, 'डॉक्टर या तो चार घंटे में काम पर लौटें या फिर एक्शन के लिए तैयार रहें.' फिर क्या सहनशक्ति की सारी सीमाएं टूट गयी और सीएम के एक्शन से पहले ही जूनियर डॉक्टरों ने बेखौफ होकर अपना रिएक्शन देना शुरू कर दिया गया.

 

अब तक जूनियर-सीनियर समेत लगभग आठ सौ से अधिक चिकित्सकों ने इस्तीफा भी दे दिया है. पश्चिम बंगाल में स्वास्थ व्यवस्था पूरी तरह कोमा चली गयी है. जिसे देखते हुए सीएम ने एनआरएस के हड़ताली डॉक्टरों को शनिवार शाम को नवान्न में वार्ता के लिए बुलाया है. लेकिन ममता बनर्जी की धमकी से खार खाए डाक्टरों की गवर्निग बाड़ी ने इस ‘नवान्न वार्ता’ को सिरे से ठुकरा दिया है.

 

डॉ अभिषेक सरकार का कहना है कि, 'हम बंद कमरे में नहीं बल्कि एनआरएस के प्रांगण में आमने-सामने सीएम के साथ बात करना चाहते हैं. क्योंकि बात चिकित्सक समुदाय की डिग्नटी की है. उन्होंने तो हम चिकित्सकों को बाहरी बताकर अभद्र व अपमाजनक भाषा में नॉक आउट करने की धमकी दी है. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement