Advertisement

calcutta

  • Aug 23 2019 2:14AM
Advertisement

केएमडीए के निर्देश पर बंद हुआ चेतला लॉक गेट ब्रिज

केएमडीए के निर्देश पर बंद हुआ चेतला लॉक गेट ब्रिज

 कोलकाता :  कोलकाता मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (केएमडीए) के निर्देश पर ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार रात आठ बजे से चेतला लॉक गेट ब्रिज को पूरी तरह से बंद कर दिया है. शुक्रवार को ब्रिज का निरीक्षण करने के बाद फैसला किया जायेगा कि इस पर यातायात कब शुरू होगा.

 
कोलकाता ट्रैफिक पुलिस सूत्रों के मुताबिक, गुरुवार को केएमडीए की तरफ से उन्हें एक नोटिस आया, जिसमें जल्द से जल्द चेतला लॉक गेट ब्रिज को बंद करने का उल्लेख था. इसके बाद पुलिस ने वाहनों व राहगीरों के लिए ब्रिज बंद रखने का निर्णय लिया. 
 
ट्रैफिक पुलिस की तरफ से कहा गया कि केएमडीए के विशेषज्ञों को प्राथमिक जांच में ब्रिज में कुछ गड़बड़ियां मिली हैं, इसके कारण ज्यादा जोखिम नहीं लेते हुए इसे तुरंत बंद करने का फैसला लिया गया. केएमडीए के कहने पर पुलिस की तरफ से ब्रिज को तुरंत गुरुवार रात को बंद कर दिया गया. शुक्रवार को केएमडीए के एक्सपर्ट ब्रिज का निरीक्षण करेंगे.
 
मरम्मत के लिए बंकिम सेतु का एक लेन आज से 3 दिन के लिए बंद रहेगा
हावड़ा :  लोड टेस्ट व मरम्मत कार्य को लेकर बंकिम सेतु के एक लेन पर तीन दिनों के लिए वाहनों का आवागमन पूरी तरह बंद रहेगा. 23 अगस्त को सुबह छह बजे से 25 अगस्त की रात 12 बजे तक एक लेन बंद रहेगा. यह जानकारी डीसी (ट्रैफिक) वाइ रघुवंशी ने एक संवाददाता सम्मेलन में दी. 
 
उन्होंने कहा कि हावड़ा मैदान से हावड़ा स्टेशन की ओर जाने वाले लेन को बंद रखा गया है. हालांकि हावड़ा स्टेशन आने वाले वाहन सेतु के दूसरे लेन से आयेंगे, लेकिन हावड़ा स्टेशन से हावड़ा मैदान जाने वाली गाड़ियां दूसरे रूट से जायेंगी.  पुलिस उपायुक्त ने कहा कि हावड़ा स्टेशन से मध्य हावड़ा की ओर जाने वाले वाहनों को अलग रूट से भेजा जायेगा.                                
 
मध्य हावड़ा की ओर जाने वाली गाड़ियों को मछली मार्केट, आइसी बोस रोड होते हुए मार्टिन ब्रिज से निकाला जायेगा, जबकि दक्षिण हावड़ा की ओर जाने वाले वाहनों को रेल म्यूजियम होते हुए फोरशोर रोड से निकाला जायेगा. ट्रैफिक जाम नहीं हो, इसके लिए अलग-अलग प्वाइंट पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे. 
 
पोस्टर हिंदी में नहीं: बंकिम सेतु (हावड़ा स्टेशन साइड)  पर सिटी पुलिस की ओर से ट्रैफिक से संबंधित जानकारी दी गयी है. माइकिंग भी की जा रही है, लेकिन पोस्टर सिर्फ बांग्ला में है. हावड़ा शहर में बड़ी संख्या में हिंदीभाषी रहते हैं. प्रशासनिक महकमे में भी हिंदीभाषी अधिकारियों की कमी नहीं है. पुलिस आयुक्त से लेकर एसीपी रैंक के अधिकारी हिंदीभाषी हैं. 
 
बावजूद इसके, तीन दिनों तक एक लेन के बंद होने की जानकारी हिंदी में नहीं दी गयी है. हिंदी भाषी चालकों का कहना है कि बांग्ला के साथ हिंदी में भी पोस्टर लगाना चाहिए. पुलिस उपायुक्त (यातायात) वाइ रघुवंशी ने कहा कि बांग्ला में पोस्टर लगाये गये हैं. हिंदी में भी जानकारी देने के पोस्टर लगा दिये जायेेगें.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement