Advertisement

calcutta

  • Feb 11 2019 1:35AM
Advertisement

सारधा चिटफंड मामले की सीबीआइ जांच : राजीव कुमार और कुणाल को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ

सारधा चिटफंड मामले की सीबीआइ जांच : राजीव कुमार और कुणाल को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ

 कोलकाता : सारधा चिटफंड मामले में कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से रविवार को दूसरे दिन सुबह 10.20 बजे से तीन चरणों में पूछताछ की गयी. शाम 6.40 बजे तीसरे चरण में उनका सामना तृणमूल कांग्रेस से निष्कासित पूर्व सांसद कुणाल घोष से कराया गया. दोनों को एक कमरे में आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गयी.

सीबीआइ सूत्रों का कहना है कि शुरूआत में सारधा मामले की जांच के लिए गठित स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) के प्रमुख होने के कारण राजीव कुमार से कई सवाल पूछे गये. कई सबूत गायब हैं. वह कहां है. उन सबूतों व कागजातों के साथ क्या हुआ, इस बारे में रविवार को पूछताछ हुई. 

सीबीआइ सूत्रों का कहना है कि कुणाल घोष ने इससे पहले 12 पन्नों की एक चिट्ठी जांच एजेंसी को सौंपी थी. इसमें कहा गया था कि उन्हें (कुणाल) गिरफ्तार करने के बाद उनके घर पर रेड कर एसआइटी के सदस्यों ने कई दस्तावेज जब्त किये, लेकिन सीजर लिस्ट में उनका जिक्र नहीं था. इसके कारण उन सबूतों व कागजातों का उसके बाद क्या हुआ, यह वे भी नहीं जानते.
 
इस बारे में पुलिस आयुक्त से पूछताछ की गयी, लेकिन उन्होंने इस बारे में कोई जानकारी होने से इनकार कर दिया. यही नहीं कई अन्य आरोपों से भी वे पल्ला झाड़ते रहे.
 
 इसके बाद कुणाल घोष व राजीव कुमार को आमने सामने बैठाकर पूछताछ की गयी. बताया जा रहा है कि सीबीआइ ने दोनों पक्षों के पूरे सवाल-जवाब की रिकॉर्डिंग की है. वे जल्द जांच की प्रगति के बारे में सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट में अवगत करायेंगे.गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर सारधा, रोजवैली सहित चिटफंड कंपनियों के घोटालों की जांच हो रही है.
 
रोजवैली मामले में भी हो सकती है पूछताछ
शिलांग/कोलकाता. सारधा चिटफंड मामले की जांच कर रही सीबीआइ रोजवैली मामले में भी कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से पूछताछ कर सकती है. रविवार को सीबीआइ दफ्तर के बाहर कुछ इस तरह के संकेत मिले हैं. सूत्रों के मुताबिक, एक तरफ सीबीआइ दफ्तर के अंदर राजीव कुमार व कुणाल घोष से पूछताछ हो रही थी.
 
इसी बीच दोपहर को रोजवैली मामले की जांच कर रहे जांच अधिकारी सोजांग शेरपा सीबीआइ के वरिष्ठ अधिकारियों के बुलावे पर शिलांग पहुंचे. उनके साथ बैग में काफी सारा कागजात भी मौजूद था.
 
राजीव कुमार व कुणाल घोष से पूछताछ के बीच में रोजवैली मामले के जांच के कागजात के साथ इसके जांच अधिकारी का शिलांग पहुंचना इन अटकलों को तेज कर दिया है कि सारधा मामले की जांच के साथ सीबीआइ की टीम रोजवैली मामले में भी राजीव कुमार से पूछताछ कर सकती है. हालांकि सीबीआइ की तरफ से इस मामले में कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement