Advertisement

calcutta

  • Nov 17 2019 3:25PM
Advertisement

मानसिक रूप से बीमार महिला से बलात्कार, टैक्सी ड्राइवर गिरफ्तार

मानसिक रूप से बीमार महिला से बलात्कार, टैक्सी ड्राइवर गिरफ्तार
Image for Representation Only.

कोलकाता : कोलकाता के एक आश्रय गृह में रहने वाली एक महिला का अपहरण और बलात्कार करने के आरोप में दक्षिणी बाहरी क्षेत्र में एक टैक्सी ड्राइवर को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि आरोपी को शनिवार रात छापेमारी के दौरान दक्षिण 24 परगना जिले में नरेंद्रपुर से पकड़ा गया.

अपनी शिकायत में 36 वर्षीय महिला ने दावा किया कि सोमवार रात को वह टहलने के लिए बाहर निकली थी. तभी कुछ लोगों का समूह उसे जबरन अपनी कार में ले गया जहां उससे कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया. पीड़िता शहर के पंचासायर में मानसिक रूप से नि:शक्त महिलाओं के लिए बने आश्रय गृह में रहती थी.

महिला ने यह भी कहा कि उसे पीटा गया और तड़के सोनारपुर इलाके के पास उसे गाड़ी से नीचे धकेल दिया गया. पुलिस ने कहा कि स्थानीय लोगों ने उसे सड़क किनारे पड़ा हुआ देखा और उसे अपने संबंधी के घर गरियाहाट जाने के लिए ट्रेन का टिकट खरीदने में मदद की.

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘आरोपी टैक्सी ड्राइवर ने लंबी पूछताछ के बाद अपराध स्वीकार कर लिया. हम यह जानने का प्रयास कर रहे हैं कि घटना वाली रात क्या उसके साथ और भी लोग थे. उसकी टैक्सी को जब्त कर लिया गया है.’ अधिकारी के अनुसार, परिस्थितिजन्य साक्ष्य से यह नहीं पता चलता कि महिला के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है.

उन्होंने बताया, ‘उसे गंभीर मनोवैज्ञानिक समस्या है. ऐसा कोई सबूत नहीं है कि उसे जबरन अगवा किया गया. महिला यौनाचार में लिप्त थी, लेकिन ऐसे संकेत नहीं मिले हैं कि उससे सामूहिक बलात्कार किया गया.’ एनसीडब्ल्यू की एक वरिष्ठ सदस्य ने शुक्रवार को पीड़िता से बात की और मामले के संबंध में लालबाजार मुख्यालय में कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से बात की. पश्चिम बंगाल महिला आयोग की अध्यक्ष लीना गंगोपाध्याय ने कहा कि संगठन के निष्कर्षों के आधार पर मामले में एक रिपोर्ट तैयार की जा रही है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement