calcutta

  • Jan 14 2020 2:49AM
Advertisement

पुण्य स्नान के लिए सागरद्वीप पहुंचे 21 लाख श्रद्धालु

पुण्य स्नान के लिए सागरद्वीप पहुंचे 21 लाख श्रद्धालु

पुण्य स्नान का पावन मुहूर्त आज रात 1.24 से 16 जनवरी रात 12.24 बजे तक

चप्पे-चप्पे पर पुलिस व फायर ब्रिगेड यूनिट 

चैबीस घंटे आसमान में भी तैनात हैं सुरक्षा प्रहरी 
 
सागरद्वीप : मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक परंपरा की अद्भुत  छटा गंगासागर के तट पर अठखेलियां करती नजर आयीं. वातावरण में गूंजता महामृत्युंजय मंत्र के बीच भवसागर से मुक्ति की चाह में सभी उम्र, वर्ग के स्त्री-पुरुषों व दिव्यांगजनों समेत अब तक लगभग 21 लाख श्रद्धालु पुण्य स्नान के लिए पहुंच चुके हैं. राज्य के पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने सोमवार को गंगासगार के मेला ऑफिस में अयोजित प्रेस काॅन्फ्रेंस में संवाददाताओं को यह जानकारी दी.
 
उन्होंने कहा मकर संक्राति स्नान से पहले ही बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों का सागर पहुंचना एक शुभ संकेत है. पुण्यार्थियों की सुरक्षा व सुविधा में कहीं कोई कसर नहीं रखी जा रही है. प्रशासन पूरी मुस्तैदी से जुटा है. आसमान में 24 घंटे हेलीकॉप्टर से व  बोट से सागर तट पर नजर रखी जा रही है.

शाही स्नान मंगलवार रात 1.24 से बुधवार रात 12.24 तक 
 
ज्ञात हो कि शाही स्नान का मुहूर्त मंगलवार देर रात 1.24 से 16 जनवरी रात  12.24 तक है. श्री मुखर्जी ने कहा कि शाही स्नान के लिए प्रशासन की ओर से समूची तैयारी हो चुकी है. किसी भी आपातकालीन परिस्थिति से निपटने के लिए हम पूरी तरह से चौकस व तैयार हैं. मेले के चप्पे-चप्पे पर पुलिस व फायर ब्रिगेड यूनिट तैनात है.
 
प्रशासन की ओर से मेले को सफलतापूर्वक संपन्न कराने की हरसंभव तैयारी की गयी है. उन्होंने आगे कहा कि हमें आशा ही नहीं, बल्कि पूर्ण विश्वास है कि गंगासागर मेला विश्व के मानचित्र पर भारत की उज्जवल छवि को प्रस्तुत करेगा.
 
वैकल्पिक बिजली की पर्याप्त व्यवस्था: मौके पर उपस्थित बिजली मंत्री शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने बताया कि मेले के दौरान किसी भी जोन में बिजली गुल न हो इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है.
 
काकद्वीप, नामखाना समेत तीन पावर स्टेश्न से बिजली आपूर्ति की व्यवस्था की गयी है. गत वर्ष 2 हजार 734 किलो वाट बिजली आपूर्ति की गयी थी. इस वर्ष 4734 किलो वाट बिजली आपूर्ति की जा रही है. अगर किसी तकनीकी गड़बड़ी के कारण बिजली गुल होती भी है, तो इस स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्था रखी गयी है.
 
सागर पुलिस ने किया 116 को गिरफ्तार : पंचायत मंत्री श्री मुखर्जी ने बताया कि चोरी व विभिन्न  तरह के छोटे बड़े आपराधिक मामलों को अंजाम देने के आरोप में गंगासागर की पुलिस ने  116 लोगों को गिरफ्तार किया है और कुछ को हिरासत में लिया है, जिसमें से सबसे अधिक गिरफ्तारी तय स्पीड से अधिक गति में बस व छोटे वाहनों को चालाने वाले हैं. 
 
गंगासागर मेले में स्वच्छता पर भी जोर : शासन-प्रशासन सागर मेले की  स्वच्छता को लेकर काफी चैकसी बरत रहा है. चैबीस घंटे माइक के जरिए  लोगों को शौचालय व साफ-सफाई के संबंध में बताया जा रहा है. खुले में शौच को रोकने के लिए जन  स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की ओर से बस स्टैंड से लेकर मेला परिसर में अत्याधुनिक शौचालय बनाये गये हैं.
 
परिसर के  कोने-कोने से कूड़े-कचरे उठाने के लिए 40 ई-कार्ट्स तथा 60 ठेला गाड़ी की  व्यवस्था की गयी है. वहीं समूचे प्रांगण में नीले रंग से रंगे हुए ‘यूज मी’  के स्लोगन के साथ लगभग 1500 कूड़ेदान रखे गये हैं. इतना ही नहीं हर घंटे मेला  परिसर की सफाई की जा रही है.
 
निःशुक्ल कपड़े का थैला बांटते स्वयं सेवी संस्था : प्रशासन की ओर से मेला में चलाये जा रहे पॉलीथीन मुक्त अभियान को स्वयंसेवी संस्थान आगे बढ़ा रहे हैं. डीएम ने यह जानकारी दी कि एक सेल्प हेल्प ग्रुप के द्वारा निःशुक्ल कपड़े के थैला का वितरण किया जा रहा है. गौरतलब है कि इस ग्रुप के द्वारा यहां आनेवाले श्रद्धालुओं से उनके प्लॉस्टिक बैग को लेकर उन्हें कपड़े का थैला दिया जा रहा है.
 
इस सेल्प हेल्प ग्रुप के लोग काकद्वीप में अब तक 98 हजार और गंगासागर में 1.1 लाख थैला वितरण कर चुके हैं. यह सभी थैला पुराने कपड़े जैसे साड़ी, टी-शर्ट, पैंट आदि के बने हैं. उनकी टीम जगह-जगह तैनात होकर थैला वितरण का कार्य कर रही है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement