buxar

  • Jan 24 2020 6:23AM
Advertisement

डकैती के चार अभियुक्तों ने कोर्ट में किया सरेंडर

 बक्सर, कोर्ट : डकैती के एक बड़े घटना को अंजाम देने वाले चार अभियुक्तों ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में गुरुवार को सरेंडर कर दिया. जहां से न्यायिक हिरासत में उन्हें जेल भेज दिया गया. इसके पहले सभी अभियुक्तों के आवेदन को सुनवाई के बाद न्यायाधीश ने खारिज कर दिया. 

 
बताते चलें कि 28 फरवरी 2019 की रात को थाना के छोटका नुआव गांव में चंदन कुमार के घर में कई अभियुक्त घुस गये और हथियार के बल पर लूटपाट करने लगे. अभियुक्तों ने सभी जेवरात, 50 हजार नकदी और बहुमूल्य सामान को हथियार के बल पर लूट लिया. काफी देर तक तांडव मचाने वाले डकैत नकाबपोश के हुलिया में घर में घुसे थे जिससे उनकी पहचान नहीं की जा सकी. 
 
घर के लोगों द्वारा विरोध करने पर उन्हें मारपीट कर काफी जख्मी कर दिया गया था. इलाज के दौरान सूचक ने घटना के बारे में पुलिस को जानकारी दिया था, जिसके बाद अज्ञात डकैतों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी. अभियुक्तों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती के रूप में देखा गया था.
 
गिरफ्तार अपराधी ने चारों के बताये थे नाम 
घटना के लगभग एक महीने बाद डकैती की योजना बनाते हुए पुलिस ने इटाढ़ी गांव के मुसहर टोली का रहने वाला योगेंद्र मुसहर को गिरफ्तार किया था जिसने अपराध स्वीकार करते हुए बताया था कि लूटकांड में उसके साथ उसी गांव के रहने वाले वीरेंद्र मुसहर, विनोद मुसहर, किशोरी मुसहर एवं संतोष मुसहर ने मिलकर डकैती को अंजाम दिया था. 
 
सभी अपराधियों को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया गया था तथा उनकी गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही थी. पुलिस दबिश में चारों अभियुक्तों ने गुरुवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में सरेंडर किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement