Advertisement

buxar

  • Sep 12 2019 4:43AM
Advertisement

दहेज के लिए विवाहिता की जलाकर हत्या, मामला दर्ज

 बक्सर : दहेज में बाइक और पचास हजार नकद राशि नहीं मिलने पर एक विवाहिता की जलाकर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है. हत्या का आरोप ससुराल वालों पर लगा है. वहीं हत्या के बाद ससुराल वालों ने बक्सर में शव का दाह संस्कार करना चाहा, लेकिन पुलिस की त्वरित कार्रवाई के चलते शव को बरामद कर लिया गया. साथ ही पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. 

 
पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गयी है. साथ ही आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी शुरू कर दी है. बताया जाता है कि भोजपुर जिले के चंदवा गांव के रहने वाले दीनबंधु प्रसाद की भतीजी काजल कुमारी की शादी रोहतास जिले के मेदनीपुर गांव के रहने वाले हिर तुरहा के पुत्र उमेश तुरहा के साथ 30 मई 2019 को हिंदू रीति रिवाज के साथ हुई. शादी में काजल के पिता ने अच्छे से दान दहेज भी दिया था, लेकिन शादी के दो दिन बाद ही काजल से बाइक और पचास हजार रुपये दहेज मांगने के लिए दबाव बनाया जाने लगा. 
 
जब मांग पूरी नहीं हुई तब उसके ससुराल वाले उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे. साथ ही उसे खाना भी नहीं देते थे. किसी तरह से काजल ने इसकी सूचना अपने परिजनों को दी. सूचना मिलते ही परिजन कई बार उसके ससुराल वालों को समझाया, लेकिन एक दो दिनों तक ठीक चलता रहा.
 
 लेकिन उसके ससुर हरि तुरहा, पति उमेश तुरहा, गोतनी मीरा देवी, सास गोरकी देवी, ननद सीमा देवी ने 10 सितंबर की शाम दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे. जब काजल ने इसका विरोध किया तो सभी ने मिलकर उसे जलाकर मार डाला. इसके बाद किसी ने इसकी सूचना उसके मायके वालों को दिया. 
 
सूचना मिलते मायके वाले वहां पहुंचे तो देखा कि घर बंद है. उन्होंने इसकी सूचना दिनारा थाना की पुलिस को दिया. सूचना मिलते ही पुलिस ने इसकी सूचना बक्सर पुलिस को दिया. इसी बीच बुधवार की सुबह काजल के मायके वालों ने उसे दाह संस्कार करने के लिए बक्सर श्मशान घाट पर लाये. 
 
इसी बीच मुफस्सिल थाना की पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया. साथ ही पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. मुफस्सिल थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है. शव बुरी तरह से जला हुआ था. परिजनों का बयान लेकर दिनारा थाना की पुलिस को भेज दिया गया है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement