Advertisement

business

  • Feb 11 2019 8:09AM
Advertisement

रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए निवेश के जानें कुछ विकल्‍पों के बारे में

रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए निवेश के जानें कुछ विकल्‍पों के बारे में
रिटायरमेंट प्लानिंंग के बहुत सारे विकल्प मौजूद हैं. वेतनभोगी हो या व्यवसायी, हर कोई अपनी सुविधानुसार इनमें से बेहतर विकल्प का चयन कर सकते हैं.
 
पीपीएफ... 
 
पीपीएप पैसा बचाने के लिए बेहतरीन विकल्पों में से एक है. इसमें सिर्फ पैसा जमा करना है और इस पर ब्याज लेना है. पीपीएफ का ब्याज पूरी तरह टैक्स फ्री होता है. अभी इसका ब्याज दर 7.6 फीसदी है. आप बैंक ऑर पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ का खाता खोल सकते हैं. यह पूरी तरह सुरक्षित निवेश का जरिया है.
 
 एनपीएस... 
 
इसमें 80सी के तहत टैक्स छूट मिलता है. इसमें निवेश की कोई ऊपरी सीमा नहीं है. इसमें सालाना न्यूनतम निवेश 6,000 रुपये का होता है. अगर आप 30 फीसदी टैक्स स्लैब में आते हैं तो एनपीएस में सालाना 15,000 रुपये बचा सकते हैं. 80सीसीडी के तहत 50 हजार की अतिरिक्त छूट भी मिलती है.
 
 इंश्योरेंस... 
 
यूलिप, पेंशन प्रोडेक्ट, ट्रेडिशनल पॉलिसी के जरिए निवेश कर सकते हैं. लंबी अवधि में यूलिप के जरिए निवेश कर सकते हैं. 58 साल से पहले पेंशन प्रोडेक्ट से पैसे निकालने पर एक्जिट लोड लगता है. पेंशन प्लान, रिटायरमेंट प्लान जैसे कई इंश्योरेंस विकल्प चुन सकते हैं.
 
 म्यूचुअल फंड... 
 
अगर लंबी अवधि के लिए निवेश करना है, तो म्यूचुअल फंड में एसआइपी कर सकते हैं. इसमें भी कई विकल्प हैं. अब तो रिटायमेंट के लिए विशेष तरह के फंड भी बाजार में आ चुके हैं. इक्विटी या डेब्ट म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं. इसमें अपनी जोखिम क्षमता के अनुसार ही निवेश करें.
 
 इक्विटी... 
 
इक्विटी के जरिए लंबी अवधि में बड़ी पूंजी या कोष बना सकते हैं, हालांकि इसमें थोड़ा जोखिम है और इसमें आपको अपने निवेश के ऊपर नजर रखनी होती है. इक्विटी लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न देती है. अधिक उम्र हो जाने पर इसमें निवेश करने से बचना चाहिए. जीवन भर की पूंजी गंवाने से बचना चाहिए.
 
 टैक्स फ्री बॉन्ड... 
 
जब आपके रिटायरमेंट के लिए 1-2 साल बचें और आपके पास कुछ कोष इकट्ठा हो जाए, तो आप टैक्स फ्री बॉन्ड में निवेश कर सकते हैं. इसमें 10-20 साल का लॉक इन पीरियड होता है और यह सुरक्षित निवेश का जरिया होता है. इसके ब्याज पर कोई टैक्स नहीं होता है. यह बहुत ही अच्छा विकल्प है.
 
 डिपॉजिट... 
 
अगर आप निचले टैक्स स्लैब में आते हैं तो इनमें निवेश कर सकते हैं. इसमें ब्याज दर 11-12 फीसदी तक भी मिल सकता है. रिटायरमेंट के बाद नियमित रकम की सुविधा मिलती है. इसे सिस्टमेटिक विथड्रावल प्लान (एसडब्ल्यूपी) भी कहा जाता है जिससे आपको हर माह एक निश्चित राशि मिलती है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement