bollywood

  • Jan 12 2020 9:37AM
Advertisement

क्या दीपिका पादुकोण के इस कदम से 'छपाक' को हो रही है दिक्कत ?

क्या दीपिका पादुकोण के इस कदम से 'छपाक' को हो रही है दिक्कत ?

मुंबई : जेएनयू हिंसा की घटनाओं को लेकर सुर्खियों में है. पिछले दिनों एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण घायल स्टूडेंट का हाल जानने जेएनयू पहुंची और इस घटना पर दुख जताया. उन्होंने सबसे एकजुटता की बात कही. अब इस बात को लेकर सोशल मीडिया पर जहां कई लोगों ने जम कर दीपिका की तारीफ की, वहीं कुछ ऐसे भी हैं, जो दीपिका के इस कदम को गलत बताते हुए इसे महज पब्लिसिटी स्टंट बता रहे और उनकी फिल्म 'छपाक' का विरोध भी जता रहे हैं.

दीपिका के जेएनयू में दाखिल होने की खबर मिलने के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने दीपिका की तारीफ में कई ट्वीट किये और उनके इस कदम की उन्होंने भरपूर सराहना की. स्वरा के अलावा मशहूर एक्ट्रेस सिमी ग्रेवाल ने भी दीपिका के इस कदम की प्रशंसा करते हुए ट्वीट किया- 'दीपिका, मैं आपके कमिटमेंट और दिलेरी की प्रशंसा करती हूं. आप हीरो हैं.' कई अन्य सितारों ने भी जेएनयू घटना की निंदा की है. तापसी पन्नू, अनुराग कश्यप, शबाना आजमी, रितेश देशमुख, कृति सैनन, अनुभव सिन्हा, अपर्णा सेन, विशाल ददलानी, विशाल भारद्वाज, नेहा धूपिया, कोंकणा सेन शर्मा, आर माधवन और कार्तिक आर्यन आदि सितारों ने नाराजगी जाहिर करते हुए दीपिका का सपोर्ट किया है.

 
उठे विरोध के भी स्वर
वहीं दीपिका के इस कदम को गलत बताते हुए एक्ट्रेस पायल रोहतगी ने ट्वीट किया- 'राम राम जी, दीपिका पादुकोण के पिता ने देश के लिए मेडल जीता और वह देश तोड़ने वाली फोर्स के सपॉर्ट में हैं. इसी के साथ उन्होंने #boycottchhapaak #DeepikaAtJNU को हैशटैग भी किया है.

कंगना रनौत की बहन रंगोली ने दीपिका पर तंज कसते हुए ट्वीट किया- 'ओवर रिएक्ट करने की जरूरत नहीं है. यह फिल्मी लोगों के प्रोमोशन का हमेशा से पैटर्न रहा है. यदि आप यह नहीं देख पा रहे, तो उनकी गलती नहीं. मैं अभी भी नहीं मानती कि उसको जेएनयू के स्टूडेंट्स में थोड़ा भी इंटरेस्ट है. ये सिर्फ पैसे में इंटरेस्ट रखते हैं'. रंगोली ने आगे लिखा- 'मुझे अच्छा लगा कि उसने ओपनली ये किया, बहुत चूहे अभी भी बिलों में छुपे हैं. सब निकलेंगे धीरे-धीरे, लेकिन हमें दीपिका का सम्मान करना चाहिए कि उसने ओपनली पीआर किया जेएनयू में.'
 
टाइटल ट्रैक लॉन्च पर रो पड़ीं दीपिका
पिछले दिनों मुंबई में जब 'छपाक' का टाइटल ट्रैक लॉन्च हुआ, तो गाना देखने के बाद लक्ष्मी की आंखें भर आयीं. तब दीपिका ने उन्हें अपने गले से लगाकर सांत्वना दी, लेकिन लक्ष्मी को ढांढस बंधाते हुए खुद दीपिका भी रो पड़ीं. यह फिल्म लक्ष्मी अग्रवाल की कहानी है, जिसे पर्दे पर दीपिका ने निभाया है. लक्ष्मी ने मौके पर कहा, 'मैं साल 2016 में मेघना मैम से मिली और उन्होंने कहा था कि वह इस सब्जेक्ट पर काम करना चाहती हैं. देखा जाये तो 2013 से पहले एसिड अटैक हिंसा के बारे में बहुत कम लोग अवेयर थे, लेकिन 2013 के बाद कई एसिड अटैक सर्वाइवर्स ने अपना दर्द, अपनी कहानी दुनिया के सामने रखी, तो वह आवाज आज एक फिल्म के रूप में सामने आयी. जब से मैंने यह गाना परदे पर देखा है, मेरे आंसू नहीं रुक रहे हैं. मैं यही सोच रही हूं कि काश मेरे पापा यहां होते.'
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement