Advertisement

bollywood

  • Aug 20 2019 2:38PM
Advertisement

Khayyam पूरे राजकीय सम्‍मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक, अंतिम दर्शन को पहुंचे ये सितारे

Khayyam पूरे राजकीय सम्‍मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक, अंतिम दर्शन को पहुंचे ये सितारे
फोटो सोशल मीडिया से साभार.

हिंदी फिल्मों को अपने सुनहरे संगीत से सजा कर उन्हें अमर बना देने वाले प्रख्यात संगीतकार खय्याम ने मुंबई के एक अस्पताल में सोमवार रात अंतिम सांस ली. वे 92 वर्ष के थे. खय्याम के निधन से पूरे देश में शोक की लहर है.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सुरसाम्राज्ञी लता मंगेशकर, फिल्मकार मुजफ्फर अली समेत कई अन्य लोगों ने उनके निधन पर शोक जताया और इसे एक संगीतमय युग का अंत बताया. मंगलवार शाम को खय्याम साहब को आखिरी विदाई दी गयी. पद्म भूषण से सम्‍मानित खय्याम को मुंबई के अंधेरी वेस्ट, फोर बंगलो गुरुद्वारा के पास वाले कब्रिस्तान में पूरे राजकीय सम्‍मान के साथ सुपुर्द-ए-खाक किया गया.

इससे पहले खय्याम साहब के अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थान पर पहुंचनेवालों को तांता लगा रहा. खय्याम साहब के अंतिम दर्शन के लिए और उन्हें श्रध्दांजलि देने के लिए गुलजार साहब, जावेद अख्तर, विशाल भारद्वाज, एक्ट्रेस पूनम ढिल्लन, एक्टर रजा मुराद, सिंगर सोनू निगम, उदित नारायण, जतिन पंडित सहित बॉलीवुड के कर्इ सितारे उनके निवास स्थान पर पहुंचे.

गौरतलब हो कि मुंबई के उपनगर जुहू में सुजय अस्पताल के आईसीयू में फेफड़े में संक्रमण के चलते मशहूर संगीतकार को 10 दिन पहले भर्ती कराया गया था. उनके एक पारिवारिक मित्र ने बताया, ‘सांस लेने में तकलीफ और उम्र संबंधी बीमारियों के चलते कुछ दिन पहले उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सुजय अस्पताल में रात करीब साढ़े नौ बजे उन्होंने आखिरी सांस ली.

पीएम मोदी ने ट्वीट किया,' ट्वीट किया, ‘‘सुप्रसिद्ध संगीतकार खय्याम साहब के निधन से अत्यंत दुख हुआ है. उन्होंने अपनी यादगार धुनों से अनगिनत गीतों को अमर बना दिया. उनके अप्रतिम योगदान के लिए फिल्म और कला जगत हमेशा उनका ऋणी रहेगा. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके चाहने वालों के साथ हैं.'

लता मंगेशकर ने भी खय्याम के निधन पर ट्विटर पर दुख जताया और उन्हें एक महान संगीतकार लेकिन दयालु शख्स बताया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘महान संगीतकार और कोमल हृदय वाले खय्याम साहब अब हमारे बीच नहीं हैं. यह खबर सुनकर मैं बेहद दुखी हूं, मैं इन्हें शब्दों में बयां नहीं कर सकती हूं. खय्याम साहब के जाने के साथ संगीत के एक युग का अंत हो गया. मैं उन्हें दिल से श्रद्धांजलि देती हूं.'

जाने माने लेखक-गीतकार जावेद अख्तर ने ट्वीट किया, ‘महान संगीतकार खय्याम साहब का निधन हो गया है. उन्होंने हर समय कई बेहतरीन नगमे दिए हैं लेकिन उन्हें अमर बनाने के लिए केवल एक ही काफी था 'वो सुबह कभी तो आयेगी.'

खय्याम ने ‘त्रिशूल', ‘नूरी' और ‘शोला और शबनम' जैसी कई सफल फिल्मों में संगीत दिया है. खय्याम के नाम से शोहरत पाने वाले मोहम्मद जहूर हाशमी को संगीत नाटक अकादमी और पद्म भूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है. 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement