Advertisement

bollywood

  • Oct 13 2019 11:11AM
Advertisement

एक चायवाला से निर्देशक बने थे बीआर इशारा

एक चायवाला से निर्देशक बने थे बीआर इशारा

मुंबई : बाबूराम इशारा लगभग तीन दशक तक इंडस्ट्री में पटकथा लेखक और निर्देशक के तौर पर सक्रिय थे.  वह अपनी  बोल्ड हिंदी फिल्मों 'चेतना', 'औरत', 'चरित्र' आदि के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने परवीन बॉबी, डैनी जैसे नायाब कलाकारों को भी इंडस्ट्री से जोड़ा था. फिल्मों में काम करने के लालसा ने वह छोटी उम्र में ही अमृतसर से मुंबई आ गये थे. रोजी-रोटी के लिए उन्होंने फिल्मों के सेट पर चाय देने के काम करना शुरू किया.

इससे उन्हें फिल्मों के इर्द-गिर्द रहने का मौका मिल गया. एक बार नरगिस अपनी फिल्म 'जोगन' की शूटिंग कर रही थी. जब बीआर इशारा उन्हें चाय देने उनके मेकअप रूम में पहुंचे और जिस अंदाज से उन्होंने नरगिस से अंदर आने की दरख्वास्त की, वह उन्हें पसंद आयी. नरगिस को उनसे बातचीत के दौरान फिल्मों से जुड़ने की उनकी हसरत का पता चला.

कुछ दिनों बाद ही नरगिस उन्हें फिल्म 'छोटी भाभी' के मुहूर्त पर ले गयीं और वहां गीतकार कमर जलालाबादी से उनका परिचय करवाया. उन्होंने 40 रूपये मासिक तनख्वाह पर बीआर इशारा को अपने सहायक के रूप में रख लिया. उसके बाद इशारा ने पीछे मुड़ कर नहीं देखा.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement