Advertisement

bokaro

  • Sep 21 2019 5:57AM
Advertisement

महेशपुर को मिलेगा सब-वे, 3000 लोगों को होगी सुविधा, खुलेगा शहर का रास्ता

 साउथ इस्टर्न रेलवे के आद्रा मंडल ने डीसी को लिखा पत्र

 2007 से रास्ता की मांग को ले होती रही है बात
 
बोकारो : महेशपुर के ग्रामीणों के लिए शहर का रास्ता खुलने वाला है. लंबे अरसे से रेलवे व झारखंड सरकार के बीच सड़क को लेकर फंसा पेंच अब सुलझता दिख रहा है. साउथ इस्टर्न रेलवे के आद्रा मंडल ने महेशपुर के लिए लिमिटेड हाइट सब-वे बनाने के लिए बोकारो डीसी को पत्र लिखा है. पत्र में कहा गया है कि राज्य सरकार या स्थानीय प्राधिकार को सब-वे बनाने के लिए कंस्ट्रक्शन कॉस्ट वहन करना पड़ेगा.बताते चले कि सेक्टर 09 से 04 किलोमीटर की दूरी पर महेशपुर गांव है.
 
रास्ता में साउथ इस्टर्न रेलवे का लाइन है. लाइन पर लेवल क्रॉसिंग नहीं होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. जरूरत होने पर लोग स्वयं ही पत्थर-बालू से लाइन के लेवल में रास्ता बनाते थे, लेकिन रेलवे प्रशासन उसे हटा देता था. शादी या अन्य समारोह में लोगों को रास्ता के लिए डीआरएम से गुहार लगानी पड़ती थी. ग्रामीण कई बार समस्या को लेकर जिला प्रशासन व रेलवे प्रबंधन से वार्ता कर चुके हैं. प्रभात खबर ने इस समस्या को कई बार प्रमुखता से प्रकाशित की थी.  साउथ इस्टर्न रेलवे की ओर से पत्राचार के बाद ग्रामीणों में हर्ष का माहौल है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement