Advertisement

patna

  • Feb 20 2016 6:28AM

बिहार की बेटी बनेंगी पेटीएम की प्रमुख

बिहार की बेटी बनेंगी पेटीएम की प्रमुख
विनय तिवारी
पटना वीमेंस कॉलेज से पढ़ाई करने वाली समस्तीपुर की शिंजनी कुमार जल्द ही पेटीएम बैंकिंग सेवा की सीइओ बननेवाली हैं. यह न सिर्फ बिहार के लिए गर्व की बात है, बल्कि बिहार की लड़कियों के लिए प्रेरणा प्रदान करनेवाली खबर है. 
 
नयी दिल्ली : अक्सर चंदा कोचर, इंद्रा नूयी, अरुंधति भट्टाचार्य के प्रमुख पदों पर पहुंचने काे महिलाओं के सशक्तीकरण के तौर पर पेश किया जाता है, लेकिन अगर बेहद सामान्य और पिछड़े राज्य की कोई महिला सामाजिक और आर्थिक बाधाओं को पार करते हुए किसी अहम पद पर पहुंचे,तो यह वाकई समाज के लिए नजीर है. हाल में टीमलीज के आये सर्वे में बैंकिंग, इंश्योरेंस, वित्तीय संस्थानों में प्रमुख पदों पर महिलाओं की संख्या काफी कम होने की बात सामने आयी है. 
 
लेकिन,अच्छी खबर यह है कि बिहार जैसे पिछड़े प्रदेश की सामान्य परिवेश में पली-पढ़ी एक लड़की एक महत्वपूर्ण बैंकिंग सेवा पेटीएम की प्रमुख पद पर काबिज हाे रही है. समस्तीपुर के पुनास गांव में एक किसान परिवार में पैदा हुईं शिंजनी कुमार ने लखीसराय के बालिका विद्यापीठ से पढ़ाई के बाद पटना वीमेंस कॉलेज से अंगरेजी में ग्रेजुएशन किया. उसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से अंगरेजी में एमए और फिर अमेरिका के टेक्सास यूनिवर्सिटी के लिंडन जॉनसन स्कूल से पब्लिक पॉलिसी में    
एमए कोर्स किया. 
 
पढ़ाई का खर्च उठाने के लिए वह बालिका विद्यापीठ की प्रिंसिपल भी बनीं. उनके पिता कोल इंडिया में काम करते थे. अमेरिका से डिग्री हासिल करने के बाद मार्च 1992 में वह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में  डिप्टी जनरल मैनेजर बनीं और नवंबर 2007 तक इस पद पर रहीं. इसके बाद उन्होंने दिसंबर, 2007 में अमेरिका की वित्तीय संस्था मेरिल लिंच कंट्री कंपलायंस हेड के तौर पर जुड़ीं और अक्तूबर,2007 तक यहां रहीं. अक्तूबर,2010 में प्राइस वाटर्सकूपर में डायरेक्टर के पद पर काम किया. मौजूदा समय वे प्राइस वाटर्सहाउस कूपर्स(पीडब्लूसी) में  कार्यकारी निदेशक के पद पर हैं. अब शिंजनी कुमार का पेटीएम पेमेंट बैंक की सीइओ बनना तय है. इस बारे में जब पेटीएम के प्रवक्ता से पूछा गया, तो उन्होंने इस खबर का न तो खंडन किया और न ही इसकी पुष्टि. शिंजनी के मार्च में पेटीएम बैंकिंग के साथ जुड़ने की पूरी संभावना है. 
 
पेटीएम जून में शुरू करेगी बैंकिंग सेवा
 
चीन के उद्योगपति जैकमा की कंपनी अलीबाबा समर्थित पेटीएम जून में बैंकिंग सेवा शुरू करने वाली है. रिजर्व बैंक ने रिलायंस, एयरटेल, वोडाफोन, आदित्य बिरला ग्रुप समेत 11 कंपनियों को बैंकिग सेवा शुरू करने की मंजूरी पिछले साल दी है. इसमें पेटीएम को बैंकिंग सेवा शुरू करने का लाइसेंस दिया है. शर्तों के मुताबिक पेमेंट बैंक के पास 100 करोड़ की पूंजी होना अनिवार्य है. पेटीएम पेमेंट बैंक के लिए पूंजी की तलाश में कई निवशकों से बातचीत कर रहा है. पीडब्लूसी से शिंजनी पांच साल से जुड़ी रही हैं और बैंकिंग, कैपिटल मार्केट और वित्तीय सेवाओं की प्रमुख रही हैं.  
 
सूत्रों का कहना है कि पेटीएम बिहार और झारखंड पर फोकस कर रही है, जहां बैंकिंग सेवाओं की पहुंच सीमित है. बैंक ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने पर खास तौर पर ध्यान केंद्रित करेगी और महिला समूहों को वित्तीय मदद पहुंचाने की पहल करेगी.
 

Advertisement

Comments