Advertisement

bhojpur

  • Jan 2 2017 4:54AM

नये साल के जश्न में डूबा रहा भोजपुर

 स्वागत .  कुंवर सिंह पार्क और कोइलवर सोन तट पर सबसे ज्यादा लोगों का लगा जमावड़ा 

हर तरफ रही मस्ती की धूम
रात 12 बजे के बाद से ही शुरू हो गया आतिशबाजी का दौर
 देर रात तक चलता रहा जश्न 
 
आरा : नये साल के जश्न में रविवार को पूरा जिला डूबा रहा. हर तरफ मस्ती और धूम-धड़ाका का नजारा देखने को मिला. रात 12 बजे से आतिशबाजी का दौर शुरू हुअा, तो सोमवार की देर रात तक जश्न चलता रहा. हर वर्ग के लोग नये साल के लम्हे को यादगार बनाने के लिए अपने अंदाज में पार्टी सेलिब्रेट कर रहे थे. कुंवर सिंह पार्क और कोइलवर सोन तट पर सबसे ज्यादा लोगों का जमावड़ा लगा हुआ था. इसके अलावा हवाई अड्डा, बहियारा हाता, विंदगांवा संगम, मौजमपुर प्लांट, बखोरापुर सहित कई जगहों पर जश्न मनानेवाले जुटे थे. इसके साथ ही होटल और रेस्टोरेंट में भी जश्न मनानेवालों की काफी भीड़ थी.
 
काफी संख्या में लोगों ने मंदिरों में माथा टेक कर नये साल के पहले दिन की शुरुआत की. कई जगहों पर मेले-सा नजारा दिख रहा था. कुंवर सिंह पार्क में लोगों की मस्ती का आलम यह था कि बच्चे से लेकर बड़े तक सेल्फी ले रहे थे. नाच, गाना और खाने के साथ गानों की धुन पर लोग थिरक भी रहे थे. रात के 12 बजे के बाद से ही मोबाइल से मैसेज और फोन के माध्यम से बधाई देने का दौर शुरू हो गया. सुबह में लोग एक - दूसरे मिले तो नव वर्ष की शुभकामनाएं दीं. समाज का हर वर्ग अपने- अपने अंदाज में नये साल को यादगार बनाने में जुटा रहा. वहीं शाम के समय होटलों में लोगों की भीड़ इस कदर जुट गयी थी कि काफी देर तक इंतजार के बाद टेबल नसीब हो रहा था. 
आरण्य देवी मंदिर में सुबह से ही उमड़ पड़ी लोगों की भीड़ : नय साल की शुरुआत मंदिर में माथा टेक कर करनेवालों की संख्या सबसे ज्यादा दिखी. इसका नजारा आरण्य देवी मंदिर में देखने को मिला. सुबह से ही लोगों की भीड़ जो उमड़ी दोपहर तक थमने का नाम नहीं ले रही थी. आरण्य देवी मंदिर में काफी दूर तक लंबी लाइन लगी हुई थी. श्रद्धालुओं को अंदर घुसा कर गेट बंद कर दिया जा रहा था और भीड़ कम होने पर गेट खोला जा रहा था. पूरा मंदिर परिसर मां के जयकारे से गूंज उठा था. इसके साथ ही रमना महावीर मंदिर में भी भक्तों की काफी भीड़ जुटी हुई थी. 
50 रुपये तक बिका गुलाब का फूल : नये साल में एक दूसरे को गिफ्ट देने का भी सिलसिला खूब चला. इन सबके बीच सबसे ज्यादा डिमांड गुलाब के फूल  की रही. गुलाब के फूल की कीमत इस कदर बढ़ी की 50 रुपये तक बिक गया. युवा पीढ़ी द्वारा गुलाब के फूल की काफी खरीदारी की गयी. सुबह में गुलाब का फुल 20 रुपये में बिक रहा था जो चार घंटे बाद ही दुगनी कीमत पर बिकने लगा और बाद में तो 50 रुपये तक पहुंच गया. 
कई जगहों पर लगा था मेला : नये साल के उपलक्ष्य में कई जगहों पर मेला भी लगा था. रमना मैदान महावीर मंदिर के पास मेले का लोगों ने सबसे ज्यादा आनंद उठाया. इसके अलावा कोईलवर व बखोरापुर में भी मेले का नजारा देखने को मिला. मेले में बच्चों ने खूब खरीदारी की. 
शराबबंदी से दिखी शांति, जगह - जगह तैनात  थे पुलिस के जवान : बिहार में शराबबंदी का असर नये साल के जश्न पर भी देखने को मिला. शराबबंदी की वजह से माहौल काफी शांत रहा और किसी भी तरह की परेशानी भी नहीं झेलनी पड़ी. हुड़दंगियों की संख्या भी काफी कम रही. जगह- जगह पुलिस बल की तैनाती की गयी थी. हालांकि पुलिस से बच- बचा कर कुछ लोगों ने शराबबंदी के बाद भी इसका आनंद उठा ही लिया. 
सुनहरे रेत और नौका बिहार के साथ कोईलवर में मना जश्न :  कोइलवर.सूबे में शराब बंदी के बाद पहली बार खुशनुमा माहौल में नववर्ष मनाया गया. जुहू चौपाटी के रूप में विख्यात कोइलवर सोन तट पर हजारों की संख्या में सैलानी जुटे थे. नव वर्ष के उपलक्ष्य में दर्जनों की संख्या में अलग- अलग कई टोलियां सोन नदी की सुनहली रेत पर बैठ सोंधी लिट्टी, चोखा, पुड़ी- हलवा के साथ- साथ मांस-मछली जैसे व्यंजन का स्वाद चखा. वहीं नदी की सुनहली रेत पर लोग अपने परिवार के साथ गुनगुनी धूप का आनंद लिया. तो कई सैलानी ऐसे दिखे जो सोन नदी की निर्मल जलधारा में नाव से सैर कर सुनहरे पलों को अपने मोबाइल के कैमरे में कैद किया. कोइलवर सोन नदी में विशालकाय ऐतिहासिक अब्दुलबारी रेल पुल भी सैलानियों के बीच आकर्षण का केंद्र रहा, तो धर्म से जुड़े लोगों ने कोइलवर स्तिथ सोन भद्र भगवान व बाबा दिनेश्वरनाथ धाम में मत्था टेका और अपने परिजनों के लिए सुखमय जीवन की कामना की. शराबबंदी को लेकर आरा, पटना व दिल्ली से परिवार संग घूमने आये पर्यटक गीता देवी, भीम सिंह, सुशील, गुड्डू, विक्की, चंद्रलेखा देवी समेत दर्जनों लोगों ने कहा नीतीश के सराहनीय कदम के कारण ही हम आज सोन नदी के तट पर बेखौफ घूम रहे हैं, जिसके लिए उन्होंने सरकार को धन्यवाद भी दिया. इधर नववर्ष के उपलक्ष्य में राजद कार्यकर्ताओं द्वारा कोइलवर गोरया घाट पर लिट्टी पार्टी का आयोजन किया गया था. जहां जिला पर्षद अध्यक्ष आरती देवी, प्रखंड प्रमुख अनिता देवी, मोहन यादव, गजेंद्र यादव, सत्यार्थी जी, नंदकुमार राय, मुन्ना यादव समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे. जिन्होंने नववर्ष पर सभी को बधाई दी.
आरण्य देवी मंदिर में नववर्ष के उपलक्ष्य में उमड़ी लोगों की भीड़.
युवाओं व बच्चों में था ज्यादा उत्साह 
नव वर्ष के जश्न को लेकर बच्चों और युवाओं में ज्यादा ही उत्साह देखा गया. बच्चों ने कुंवर सिंह पार्क में झूलों पर जम कर मस्ती की तो युवाओं ने डांस पार्टी कर जश्न को सेलिब्रेट किया. कुंवर सिंह पार्क में युवाओं और बच्चों की मस्ती देखते ही बन रही थी. युवक-युवतियां टोलियों में नये साल के लम्हों को यादगार बना रहे थे और उसको कैमरे में कैद करने से भी नहीं चूक रहे थे. वहीं हर चीज से बेखबर बच्चों को तो बस झूला झूलने का ही सुर चढ़ा हुआ था.  
कहीं लिट्टी-चोखा तो कहीं चिकेन-मटन का चल रहा था दौर 
नव वर्ष के जश्न में कहीं लिट्टी- चोखा तो कहीं चिकेन - मटन का दौर चला. युवकों की टोली जगह- जगह जुट कर जश्न मनाने में जुटी हुई थी. हर कोई अपने से लिट्टी- चोखा तैयार कर रहा था और चिकेन - मटन को लजीज बनाने में जुटा हुआ था. पूरे दिन लोग लजीज भोजन का लुत्फ उठाते रहे. हवाई अड्डे पर जश्न मना रहे चंदवा के सुरेश कुमार व संजय यादव ने कहा कि दोस्तों के साथ खुद से पकाया हुआ खाना और मस्ती यादगार रहेगा.
 
Advertisement

Comments

Other Story

Advertisement