bhagalpur

  • Oct 2 2019 7:52AM
Advertisement

कुरसेला का घुरना महेशपुर बांध टूटा, कोसी-पूर्व बिहार में डूबने से 12 लोगों की गयी जान

कुरसेला का घुरना महेशपुर बांध टूटा, कोसी-पूर्व बिहार में डूबने से 12 लोगों की गयी जान
भागलपुर : कोसी-पूर्व बिहार के जिलों में नदियों में उफान जारी है. गंगा, महानंद, कोसी सहित सहायक नदियां बौरायी हुई हैं. कटिहार के मनिहारी में बांध टूटने से अफरातफरी मच गयी. अररिया में भी कुछ जगहों पर स्थित भयावह है. 
 
मुंगेर में लोग त्राहिमाम कर रहे हैं. भागलपुर में एनएच-80 पर कई जगहों पर पानी बह रहा है. राहत की मांग को लेकर बाढ़ पीड़ितों ने जगह-जगह हंगामा भी किया. बाढ़ के पानी में डूबने से कोसी-पूर्व बिहार में मंगलवार को 12 लोगों की मौत होने की खबर है. कटिहार के कुरसेला में मड़कोस नदी के पानी के अधिक दबाब से मंगलबार के अहले सुबह घुरना महेशपुर बांध टूट गया. इससे बल्थी महेशपुर सहित आसपास गांवों में अफरातफरी मच गयी. आधा घंटे के अंदर पानी ने महेशपुर गांव समेत एक बड़े क्षेत्र को चपेट में ले लिया. 
 
अररिया-सुपौल एनएच में खजूरी बाजार के निकट पुल निर्माण को लेकर बनाये गये डायवर्सन में पानी निकलने का रास्ता नहीं है, जिससे बिलेनिया नदी का पानी गांधीनगर, बलुआही टोला में भर गया है. खगड़िया में बाढ़ से गोगरी प्रखंड में हाहाकार मचा है. इधर, भागलपुर के नाथनगर की भतोड़िया पंचायत के बिहारीपुर में निजी नाव में क्षमता से अधिक जा रहे थे, तभी नाव डूब गयी. 
 
नाव में करीब दो दर्जन यात्री डूब गये. हालांकि स्थानीय लोगों की मदद से सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि नाव में घरेलू सिलिंडर व गेहूं चावल थे. सभी नाथनगर शहर के लिए निकले थे. 15 मिनट तक नाव ठीक चली, अचानक तेज रेत व कटाव की चपेट में आने से नाव का संतुलन बिगड़ गया और नाव डूबने लगी. 
 
बाढ़पीड़ितों ने राहत की मांग को लेकर किया हंगामा, कई जगह जाम की सड़क
क्षमता से अधिक लोगों को ले जा रही नाव डूबी, स्थानीय लोगों की मदद से बचे

रामगढ़-मोहनिया पथ पर बह रहा पानी 
 
रामगढ़ (कैमूर) : कर्मनाशा नदी में उफान के कारण मोहनिया-रामगढ़ पथ को मंगलवार की सुबह बंद कर दिया गया. मुख्य सड़क पर नदी की तेज धारा कमर तक बहने के कारण एसडीएम शिव कुमार राउत के निर्देश पर सीओ हेमेंद्र कुमार ने मुख्य सड़क पर बैरियर लगाकर पुलिस के जवान मुस्तैद कर दिये है. उक्त पथ से गुजरने वाले चार पहिया व दोपहिया वाहनों के चालक अब किसी भी सूरत में मुख्य सड़क पर जान जोखिम में डालकर पार नहीं कर सकते.
 
भागलपुर में ट्रेन से कटकर बाढ़पीड़ित मां और बेटे की मौत
 
अकबरनगर (भागलपुर) : अकबरनगर-महेशी  रेलवे स्टेशन के बीच गंगापुर गांव के समीप मंगलवार को रेलवे ट्रैक पर शरण  लिये बाढ़पीड़ित गंगापुर की महिला अंजू देवी (40) व पुत्र विक्रम कुमार  (4) को ट्रेन रौंदते निकल गयी. मां-बेटे की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी. इस  घटना से रेलवे ट्रैक पर शरण लिये बाढ़ पीड़ित आशियाना छोड़ कर भागने लगे.
  
आक्रोशित बाढ़ पीड़ितों ने मां-बेटे का शव एनएच 80 मुख्य मार्ग पर रख  भागलपुर-सुलतानगंज मुख्य मार्ग जाम कर हंगामा किया और मुआवजा देने की मांग  करने लगे. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब आठ बजे महिला  अपने पुत्र के साथ आशियाने से निकल रही थी. इस दौरान भागलपुर की ओर  से आ रही ब्रह्मपुत्र मेल ट्रेन की चपेट में दोनों आ गये.  
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement