Advertisement

bhagalpur

  • Nov 16 2019 10:27PM
Advertisement

बिहार के कौशिक राज बने एसएससी परीक्षा में ऑल इंडिया टाॅपर, आइएएस बनने की है तमन्ना

बिहार के कौशिक राज बने एसएससी परीक्षा में ऑल इंडिया टाॅपर, आइएएस बनने की है तमन्ना
कहलगांव SSC परीक्षा के कंट्री टापर कौशिक राज

भागलपुर : बिहार के भागलपुर जिले में कहलगांव के कौशिक राज एसएससी कंबाइन्ड ग्रेजुएट लेवल एग्जाम (सीजीएल) 2017 में ऑल इंडिया टाॅपर बने हैं. शुक्रवार की रात करीब 10 बजे एसएससी की बेवसाइट पर परीक्षा का फाइनल रिजल्ट आया तो कौशिक की सफलता देख परिवार के सदस्य झूम उठे.

कहलगांव शहर के वार्ड नंबर 06 के विक्रमशिला नगर निवासी राजन कुमार वर्मा व सुनीता वर्मा के 24 वर्षीय पुत्र कौशिक राज ने एसएससी की परीक्षा में पहली रैंक हासिल कर अपने परिवार, शहर और जिले का नाम रौशन किया है. कौशिक को जेनरल कटैगरी में कुल प्राप्तांक 700 में से 620 अंक यानी 88.06 फीसदी अंक मिले. परीक्षा में करीब 17 लाख अभ्यर्थी लगभग आठ हजार पदों के लिए शामिल हुए थे. रैंक के मुताबिक उसका चयन इन्कम टैक्स विभाग में इंस्पेक्टर पद के लिए हुआ है. हालांकि कौशिक ने बताया कि उसकी तमन्ना आइएएस बनकर देश के विकास में अपना योगदान देना है.

मेरी सफलता में मां का बड़ा योगदान : कौशिक
कौशिक राज ने प्रभात खबर से विशेष बातचीत में बताया कि उन्होंने शहर के सेंट जोसेफ स्कूल, पकड़तल्ला से 10वीं की परीक्षा पास की थी. वह स्कूल टाॅपर रहे थे. बिहार बोर्ड से इंटर विज्ञान की परीक्षा पास की. इसके बाद एनआइटी, दिल्ली से बीटेक की डिग्री (2013-2917) हासिल की. बीटेक करने के बाद अगस्त 2017 मे एसएससी की परीक्षा में शामिल हुए. 2018 में इस परीक्षा का रिजल्ट घोषित हुआ था, लेकिन कुछ कारणों से कोर्ट में मामला चला गया, जिससे रिजल्ट प्रकाशन लंबित हो गया. करीब एक साल के बाद रिजल्ट घोषित किया गया. कौशिक ने कहा कि परीक्षा का परिणाम देख मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि इस परीक्षा में मुझे पहली रैंक हासिल हुई है.

कौशिक की इस उपलब्धि से परिवार के लोग काफी खुश हैं. कौशिक ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां सुनीता वर्मा (गृहिणी), पिता राजन कुमार वर्मा (बिजनेसमैन), चाचा प्रेम लाल, अखिलेश वर्मा, चाची रूपाली वर्मा (पार्षद), भाई अभिषेक राज, बहन नेहा राज को दिया है. कौशिक ने बताया कि दिल्ली में रहकर इस परीक्षा की तैयारी की थी. किसी कोचिंग संस्थान से मदद नहीं ली. खुद योजनाबद्ध ढंग से अनुशासन के साथ तैयारी की.

कम पढ़ें, सटीक पढ़ें
छात्रों को सुझाव देते हुए कौशिक ने कहा है कि कम पढ़ें, लेकिन सटीक पढ़ें. अपना कंसेप्ट स्पष्ट रखें. सेल्फ स्टडी पर विशेष फोकस करें.

एसएससी सीजीएल परीक्षा
कौशिक राज ने बताया कि यह परीक्षा तीन स्तरीय होती है. टीआर 01 के पेपर मे 200 अंक में 173, टीआर 02 के 400 में से 375 एवं टीआर 03 के 100 मे से 72 अंक हासिल किया. इसी प्राप्त अंक के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार किया जाता है. कौशिक राज ने कुल अंक 700 मे से 620 हासिल किया है.

कौशिक की शैक्षणिक योग्यता
सेंट जोसेफ स्कूल पकड़तल्ला से दसवीं की परीक्षा 91 फीसदी अंकों के साथ पास की. बीएसइबी पटना से इंटर (विज्ञान) 81.4 फीसदी अंकों के साथ पास की. बीटेक इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन व एनआइटी, दिल्ली.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement