Advertisement

bhagalpur

  • Mar 14 2019 8:50AM

सृजन घोटाले के आरोपितों को गिरफ्तार करानेवाले को सीबीआई देगी 25-25 हजार रुपये ईनाम

सृजन घोटाले के आरोपितों को गिरफ्तार करानेवाले को सीबीआई देगी 25-25 हजार रुपये ईनाम

भागलपुर : केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने जिले के चर्चित करोड़ों रुपये के सृजन घोटाला मामले में फरार चल रहे चार नामजद आरोपितों को गिरफ्तार करानेवाले को 25-25 हजार रुपये ईनाम देने की घोषणा की है. नामजद फरार में मनोरमा देवी के पुत्र और पुत्रवधू के साथ-साथ तत्कालीन जिला भू-अर्जन पदाधिकारी राजीव रंजन सिंह और जिला कल्याण पदाधिकारी की पत्नी शामिल हैं.

सीबीआई ने कहा है कि उक्त आरोपित जांच की प्रक्रिया से लगातार गैरहाजिर हैं. एसआइटी ने पूर्व कल्याण पदाधिकारी अरुण कुमार को तो पकड़ लिया, लेकिन उनकी पत्नी इंदु गुप्ता गिरफ्तारी से बच गयी थी. वहीं, 2017 के अगस्त में घोटाला उजागर होने के बाद से अमित और प्रिया फरार हैं.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मामले में फरार चल रहे चारों आरोपित भागलपुर के तत्कालीन जिला भू-अर्जन पदाधिकारी राजीव रंजन सिंह, जिला कल्याण पदाधिकारी की पत्नी इंदू गुप्ता, सृजन की संथापक मनोरमा देवी के पुत्र अमित कुमार और उनकी पुत्रवधू रजनी प्रिया के काफी खोजबीन के बावजूद गिरफ्त में नहीं आने के कारण इन चारों आरोपितों पर 25-25 हजार रुपये का ईनाम रखा गया है.


Advertisement

Comments

Advertisement